Bitwise Operators : Shift or complement in hindi , बिट वाइज ऑपरेटर : शिफ्ट या कॉम्प्लीमेंट c कंप्यूटर भाषा हिंदी में

By  
बिट वाइज ऑपरेटर : शिफ्ट या कॉम्प्लीमेंट c कंप्यूटर भाषा हिंदी में Bitwise Operators : Shift or complement in hindi :-
इससे पहले article मे,हमने bitwise लॉजिकल operator को पढ़ा |इस article मे , हम bitwise shift और complement operator को पढेगे |

Bitwise shift Operator
इस operator का use किसी बिट पैटर्न मे left या right side मूव करने के लिए किया जाता है |shift operator का syntax >> और << है | इसका syntax है :-
left side : operand << n
right side : operand >>n
यहा पर
operand : कोई integer है जिसके बिट पैटर्न मे shifting होनी वाली है |
n: ये number ऑफ़ bits है जो बिट पैटर्न मे shift होगे |
left bit operator , किसी pattern के सभी bits को left side मे n position तक shift कर देते है |किसी पैटर्न की left most बिट खो सकती है उसके स्थान पर shifted bits आ सकती है |और right side हुई vacant जगह को ‘0’ से filled कर दे जाती है |
right shift operator , किसी pattern के सभी bits को right side मे n position तक shift कर देते है |किसी पैटर्न की right most bit खो सकती है उसके स्थान पर shifted bits आ सकती है |और
अगर integer unsigned होता है तब left side हुई vacant जगह को ‘0’ से filled कर दे जाती है |
अगर integer signed होता है तब vacant जगह की value machine पर निर्भर करती है |
दोनों ही operand और n, constant और variable हो सकती है |लेकिन n की value मे दो limitation हो सकती है :-
1.’n’ की value negative नहीं हो सकती है |
2.’n’ की value किसी integer के भीत पैटर्न मे स्थित bits से ज्यादा नहीं हो सकती है |
उदाहरण के लिए :
a एक unsigned integer है जिसका बिट पैटर्न है  0110 0011 1011 1000
a<<3 :   0101 1101 1100 0000
a>>3 :   0000 1100 0111 0111
a<<3 statement से बिट पैटर्न तीन position left side मे move हो गया |इसलिए बिट पैटर्न के पांच right position पर ‘0’ आ जाता है |
a>>3 statement से बिट पैटर्न 3 position right side मे मूव हो गया|इसलिए बिट पैटर्न के पहले तीन  vacant positions पर ‘0’ आ जाता है |
shift operator का use , 2 से  multiplication और division के लिए करते है |
उदाहरण -1
#include<stdio.h>
#include<conio.h>
void main()
{
int a;
printf(“Enter Value”);
scnaf(“%d”,&a);
b=a<<1;
printf(“Output = %d”,b);
getch();
}
इस उदहारण का आउटपुट होगा :
Enter Value 12
Output 24
बिट पैटर्न मे , 12 :    0000  1100
after shifting ,        0001  1000 जो की 24 का बिट pattern है |
अतः इस प्रोग्राम से , हम यूजर द्वारा दिए गये input को 2 से multiply कर  सकते है |
उदाहरण -2
#include<stdio.h>
#include<conio.h>
void main()
{
int a;
printf(“Enter Value”);
scnaf(“%d”,&a);
b=a>>1;
printf(“Output = %d”,b);
getch();
}
इस उदहारण का आउटपुट होगा :
Enter Value 12
Output 6
बिट पैटर्न मे , 12 :    0000  1100
after shifting ,        0000  0110 जो की 6 का बिट pattern है |
अतः इस प्रोग्राम से , हम यूजर द्वारा दिए गये input को 2 से divide कर  सकते है |
Bitwise Complement operator
इस operator का use किसी एक operand पर हो सकता है |इसे किसी integer के बिट पैटर्न को complement करने के लिए किया जाता है |इसका मतलब है :-
सभी ‘1’ ,’0′ मे change हो जाये |
और सभी ‘0’ ,’1′ मे change हो जाये |
उदाहरण के लिए :
bit pattern : 0111 1010
Output      : 1000 0101
इसका syntax ‘~’ है |
Masking
masking एक प्रोसेस है जिसमे किसी बिट पैटर्न मे से specific bits को extract किया जाता है |masking प्रोसेस मे लॉजिकल operator के अलावा shift operator को भी use कर सकते है |जिस operand पर masking होती उसे mask कहते है |
उदाहरण के लिए
b=a & mask;
b=a | mask;
masking का use :
1. masking का use किसी integer के बिट पैटर्न को  decide करने के लिए किया जाता है |
2. किसी बिट पैटर्न के portion को दुसरे variable मे copy करना और पुरने वाले बिट पैटर्न मे vacant place पर ‘0’ place करना |
3.  किसी बिट पैटर्न के portion को दुसरे variable मे copy करना और पुरने वाले बिट पैटर्न मे vacant place पर ‘1’ place करना |
4.किसी बिट पैटर्न के portion को दुसरे variable मे copy करना और पुरने वाले बिट पैटर्न मे बचेर हुए बिट को invert करना |
उदाहरण के लिए :
दो इनपुट्स है (i) 101001 (ii) 001100 |इन input से 001000 बिट पैटर्न चाहिए |ये तभी हो सकता है जब दोनों input का OR operation हो |इसका code है:-

#include<stdio.h>
#include<conio.h>
void main()
{
int a,b,c;
printf(“Enter Value”);
scnaf(“%d”,&a &b);
c=a|b;
printf(“Output = %d”,c);
getch();
}
इस उदाहरण का आउटपुट होगा : 001000इस प्रकार दो या दो से अधिक bitwise operator को use करके ,प्रोग्रामर desired आउटपुट प्राप्त कर सकता है |इस प्रोसेस को Masking कहते है |