सब्सक्राइब करे youtube चैनल

reproductive health class 12 notes in hindi जनन स्वास्थ्य कक्षा 12 नोट्स अध्याय 4 जीव विज्ञान 2022 PDF Download ?

अध्याय-4 जनन स्वास्थ्य (Reproductive Health)
ऽ जनन स्वास्थय – समस्याएं एवं कार्यनीतियां-
जनन के सभी पहलुओं सहित एक सम्पूर्ण स्वास्थ्य जनन स्वास्थ्य कहलाता है।
भारत में जनन स्वास्थ्य की समस्याओं के मुख्य कारण है-
i. अशिक्षित समाज
ii. बाल विवाह
iii. कम उम्र में गर्भधारण
iv. यौन शिक्षा की कमी
v. यौन सम्बन्धी रोगों की जानकारी न होेना
Note –  7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस तथा 11 जुलाई को विश्व जनसंख्या दिवस मनाया जाता है।
सन् 1997 ई0 में भारत देश में एक व्यापक कार्यनिती की शुरूआत हुई जिसे-
‘‘ जनन एवं शिशु स्वास्थ्य सेवा कार्यक्रम‘‘
(Reproductive and Child Health Care Program or RCH Program)
जिसे आज ‘‘परिवार कल्याण‘‘ के नाम से जाना जाता है।
ऽ जन्म नियंत्रण या परिवार नियोजन
जन्म नियंत्रण में निम्नलिखित विधियां अपनायी जाती है।
1. अस्थाई विधियां-
i. प्राकृतिक विधियां
ऽ सम्भोग व्यवधान
ऽ आवधिक संयम
ऽ स्तनपान अनार्तव
ii. यान्त्रिक विधियां
ऽ निरोध (Condom)
ऽ सर्विकल टोपी
ऽ अन्तः गर्भाशय मुक्ति
iii. रासायनिक विधियां
इसमें जैली फोय, क्रीय जैसे शुक्राणुनाशक तथा मुखीय गोली जैसे- सहेली, माली डी0 आदि का उपयोग किया जाता है।
2. अस्थाई विधियां
ऽ पुरूष नसबन्दी
ऽ महिला नसबन्दी

ऽ सगर्भता चिकित्सीय समापन
गर्भावस्था पूर्ण होने से पहले स्वैच्छिक रूप से गर्भ समापन को प्रेरित गर्भपात या सगर्भता चिकित्सीय समापन कहते है भारत सरकार ने 1971 में इसके दुरूपयोग को रोकने के लिए कानूनी स्वीकृति प्रदान की थी।
ऽ यौन संचरित संक्रमण
वे संक्रमण जो सम्भोग के समय यौन सम्बन्धों द्वारा एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में संचरित होते है यौन संचरित संक्रमण कहलाते है।
ऽ सुजाक
ऽ उपदेेश
ऽ एड्स रोग
ऽ जननांगो की हर्पिस

ऽ बंध्यता

विश्व में अनेंको दम्पत्ति बन्ध्य हैं अर्थात सम्भोग करने के पश्चात् भी दम्पत्ति द्वारा सन्तानोत्पत्ति नही कर पान बन्ध्यता या बांझपन कहलाता है।