write a program to calculate notes in the amount , check valid entry or sides of the triangle c++ language

By  
इससे से पहले के article मे पैटर्न के उदाहरनो को discuss किया था | अब इस article मे c++ language मे कुछ और उदाहरनो को discuss करेगे जिससे आप सभी c++ language के syntax मे बहुत ही अच्छे होते है |

1.Program 1
write a program to calculate notes in the amount.

Expalnation
सबसे पहले यूजर द्वारा amount को input करता है |
इसके बाद यूजर द्वारा declare किये गये amount variable मे assign किया जाता है |
इसमें अलग अलग नोट्स जैसे 500,500,100,50,20,10 आदि के value को hold करता है |
अगर amount की value 2000 से बड़ी होती है तब 2000 की value amount / 2000 statement से calculate किया जाता है | इसके बाद amount को amount – note2000*2000 update किया जाता है |
अगर amount की value 500 से बड़ी होती है तब note500 की value amount / 500 statement से calculate किया जाता है | इसके बाद amount को amount – note500*500 update किया जाता है |
अगर amount की value 50 से बड़ी होती है तब note50 की value amount / 50 statement से calculate किया जाता है | इसके बाद amount को amount – note50*50 update किया जाता है |
अगर amount की value 100 से बड़ी होती है तब note की value amount / 100 statement से calculate किया जाता है | इसके बाद amount को amount – note100*100 update किया जाता है |
अगर amount की value 200 से बड़ी होती है तब note200 की value amount / 200 statement से calculate किया जाता है | इसके बाद amount को amount – note200*200 update किया जाता है |
अगर amount की value 20 से बड़ी होती है तब note20 की value amount / 20 statement से calculate किया जाता है | इसके बाद amount को amount – note20*20 update किया जाता है |

#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
int amount ;
int note2000,note500,note200,note100,note20,note50;
cout<<“Enter Amount : “<<endl;
cin>>amount;
if(amount>2000)
{
note2000=amount/2000;
amopunt = amount – note2000*2000;
}
if(amount>2000)
{
note2000=amount/2000;
amopunt = amount – note2000*2000;
}
if(amount>500)
{
note500=amount/500;
amopunt = amount – note500*500;
}
if(amount>200)
{
note200=amount/200;
amopunt = amount – note200*200;
}
if(amount>100)
{
note100=amount/100;
amopunt = amount – note100*100;
}
if(amount>50)
{
note50=amount/50;
amopunt = amount – note50*50;
}
cout<<“Note od Rs 2000 : “<<note2000<<endl;
cout<<“Note od Rs 500 : “<<note500<<endl;
cout<<“Note od Rs 200 : “<<not200<<endl;
cout<<“Note od Rs 100 : “<<note100<<endl;
cout<<“Note od Rs 50 : “<<note50<<endl;
getch();
}

2.Program 2
write a program to check valid entry or sides of the triangle.

Explanation
सबसे पहले यूजर द्वारा sides value को input करता है |
इसके बाद यूजर द्वारा declare किये गये variable a,b or c मे assign किया जाता है |
इसके बाद इन variable को function check() मे pass किया जाता है |
check() function से return किये गये value को count मे assign किया जाता है |
अगर count की value ‘1’ होती है तब sides are not perfect display होगा |
अगर count की value ‘0’ होती  है तब sides are perfect display होगा |
check() मे ,
इस function मे तीन conditions को check किया जाता जाता है |
अगर (a+b>c) और (a+c>b) और ( b+c>a) check किया जाता है |
अगर तीनो conditions true होगी तब count की value ‘0’ होगी | अन्यथा count = 1 होगी |

#include<iostream.h>
#include<conio.h>
int check(int , int ,int );
void main()
{
int a,b,c;
cout<<“Enter side1 :”<<endl;
cin>>a;
cout<<“Enter side2 :”<<endl;
cin>>b;
cout<<“Enter side3 :”<<endl;
cin>>c;
int count = check(a,b,c);
if(count==1)
{
cout<<“sides are perfect”;
}
else
{
cout<<“sides are not perfect”.<<endl;
}
getch();
}
int check(int p,int q,int r)
{
if((p+q>r) && (p+r>q) && (q+r>p))
{
count = 0;
}
else{
count =1;
}
return count;
}

3.Program 3
write a program to check valid entry or angles of the triangle.

Expalnation
सबसे पहले यूजर द्वारा angles value को input करता है |
इसके बाद यूजर द्वारा declare किये गये variable a,b or c मे assign किया जाता है |
इसके बाद इन variable को function check() मे pass किया जाता है |
check() function से return किये गये value को count मे assign किया जाता है |
अगर count की value ‘1’ होती है तब angles are not perfect display होगा |
अगर count की value ‘0’ होती  है तब angles are perfect display होगा |
check() मे ,
इस function मे तीन conditions को check किया जाता जाता है |
अगर (a+b+c ==180) को  check किया जाता है |
अगर तीनो conditions true होगी तब count की value ‘0’ होगी | अन्यथा count = 1 होगी |

#include<iostream.h>
#include<conio.h>
int check(int , int ,int );
void main()
{
int a,b,c;
cout<<“Enter angle1 :”<<endl;
cin>>a;
cout<<“Enter angle2 :”<<endl;
cin>>b;
cout<<“Enter angle3 :”<<endl;
cin>>c;
int count = check(a,b,c);
if(count==1)
{
cout<<“angles are perfect”;
}
else
{
cout<<“angles are not perfect”.<<endl;
}
getch();
}
int check(int p,int q,int r)
{
if(p+q+r == 180 )
{
count = 0;
}
else{
count =1;
}
return count;
}

4.Program 4
write a program to calcualate loss और profit.

Expalnation
सबसे पहले यूजर द्वारा  दो value को input करता है |
इसके बाद यूजर द्वारा declare किये गये variable sell_price और cost_price मे assign किया जाता है |
उसके बाद  sell_price और cost_price को check किया जाता है |
अगर sell_price की value cost_price से बड़ी होती है तब profit = sell_price – cost_price को calculate किया जाता है |
अगर sell_price की value cost_price से छोटी  होती है तब profit = cost_price – sell_price को calculate किया जाता है |
इसके बाद  profit और loss की value को print करते है |

#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
int a,b;
cout<<“Enter cost price :”<<endl;
cin>>a;
cout<<“Enter sell price  :”<<endl;
cin>>b;
if(a>b)
{
int loss = a-b;
cout<<“loss :”<<loss;
}
if(a<b)
{
int profit = b-a;
cout<<“Profit : “<<profit;
}
getch();
}