WhatsApp Group Join Now
Telegram Join Join Now

फोटॉन क्या है , फोटोन की खोज किसने की थी , ऊर्जा , गुण (photon in hindi)

(photon in hindi) फोटॉन क्या है , फोटोन की खोज किसने की थी , ऊर्जा , गुण : भौतिक विज्ञान में फोटोन को विद्युत चुम्बकीय ऊर्जा का बण्डल कहा जाता है , यह प्रकाश की मूल इकाई होती है जिससे प्रकाश बना होता है , मैक्स प्लांक के क्वांटम सिद्धांत के अनुसार , प्रकाश ऊर्जा के छोटे छोटे बंडल या पैकेट के रूप में गति करता है और ऊर्जा के इन छोटे छोटे बण्डल या पैकेट्स को फोटोन कहते है , फोटोन को क्वांटम भी कहा जाता है। फोटोन प्राथमिक कणों की तरह माने जाते है अत: इनको अन्य छोटे भागों में तोडना संभव नहीं है क्यूंकि यह प्रकृति में प्राथमिक कणों की तरह मूल कणों में माना जाता है।

फोटॉन के गुण (Properties of a Photon)

यहाँ हम फोटोन के गुणों का अध्ययन करते है , इन गुणों के आधार पर इनकी पहचान तथा इनके व्यवहार के बारे में जाना जाता है , फोटोन के गुण निम्न है –
  1. फोटोन का द्रव्यमान शून्य होता है अर्थात यह द्रव्यमान रहित होता है।
  2. फोटोन पर किसी प्रकार का कोई आवेश उपस्थित नहीं रहता है अत: यह अनावेशीत कण है।
  3. विराम अवस्था में इनकी ऊर्जा शून्य होती है अत: फोटोन का अस्तित्व तभी है जब वे गति करते रहते है।
  4. फोटोन ऊर्जा और संवेग का गमन करती है जिसका मान आवृत्ति पर निर्भर करता है।
  5. विभिन्न प्रकार की प्राकृतिक प्रक्रियाओं द्वारा फोटोन को नष्ट किया जा सकता है या उत्पन्न किया जा सकता है।
  6. खाली जगह (स्पेस) में फोटोन का वेग प्रकाश के वेग के बराबर होता है अर्थात फोटोन प्रकाश के वेग से गति करता है।

फोटॉन की ऊर्जा (energy of photon)

किसी भी फोटोन में विद्यमान ऊर्जा E = hv होती है जिसे निम्न प्रकार भी लिखा जा सकता है –
E = hc/λ
यहाँ E = फोटोन की उर्जा
h = प्लांक नियतांक होता है जिसका मान 6.626 × 10 -34 joule·s होता है।
c = प्रकाश का वेग = 3 × 108 m/s होता है।
सूत्र E = hc/λ में प्लांक नियतांक h और प्रकाश के वेग c का मान नियत रहता है दोनों का मान रखने पर या सूत्र निम्न प्रकार बन जाता है –
hc = 12400 (लगभग)
E = 12400/λ
फोटोन का द्रव्यमान –
m = h/cλ
फोटोन का संवेग का मान –
संवेग (p) = h/λ

Comments are closed.