मानव का तंत्रिका तंत्र को समझाइए nervous system in human body in hindi तंत्रिका तंत्र किसे कहते हैं

By  

nervous system in human body in hindi तंत्रिका तंत्र किसे कहते हैं मानव का तंत्रिका तंत्र को समझाइए ?

तंत्रिका तंत्र : तंत्रिका तंत्र और अंतस्त्रावी तंत्र शरीर के संचार नियंत्रण और समन्वयन करने वाले तंत्र है | तंत्रिका तंत्र सामान्यतया तीव्र और अंत:स्त्रावी तंत्र सामान्य और धीमा समन्वयन करता है | इनके अतिरिक्त तंत्रिका तंत्र संवेदनाओं को ग्रहण और उनका प्रवर्धन करता है और भविष्य में उपयोग हेतु याददाश्त और ज्ञान के रूप में संग्रहित रखता है | निम्न अकशेरुकियों में तंत्रिका तंत्र अल्प विकसित होता है | स्पंज में तंत्रिका तंत्र नहीं होता है | सिलेन्ट्रेट में तंत्रिका कोशिका के जाल के रूप में आध्य तंत्रिका तंत्र होता है | चपटे कृमियों में दो लम्बवत तंत्रिका रज्जु (nerve cords) युक्त मस्तिष्क होता है | गोलकृमि में भी तंत्रिका रज्जु पाया जाता है | ऐनेलिडा और आर्थोपोडा में यह आहारनाल के अग्र भाग में तंत्रिका वलय और तंत्रिका गुच्छक (ganglia) युक्त एक दोहरा अधर ठोस तंत्रिका रज्जु पाया जाता है | मोलस्का में तंत्रिका गुच्छक (ganglia) , commissures और connectives युक्त होता है | इकाइनोडर्मेटा में aboral nerve rings और radial nerves होती है | कॉर्डेटा में पृष्ठीय खोखला तंत्रिका तंत्र होता है |

मानव का तंत्रिका तंत्र (Nervous system of humans)

तंत्रिका तंत्र के भाग : तंत्रिका तंत्र उत्तेजनशील तंत्रिका कोशिका और अउत्तेजनशील सहायक न्यूरोग्लियल कोशिकाओं के विशिष्ट उत्तक से बना होता है | इसके संघटक निम्न में विभाजित किये गए है |

  • केन्द्रीय तंत्रिका तंत्र (CNS) : इसमें मस्तिष्क और तंत्रिका रज्जु शामिल होते हैं |
  • परिधीय तंत्रिका तंत्र (PNS) : इसमें कपालीय (Cranial) और मेरुरज्जु (spinal) तंत्रिकाएं और CNS के बाहर स्थित तंत्रिका कोशिकीय पिण्ड (गुच्छक) (CNS – के अन्दर तंत्रिका कोशिकीय गुच्छक Nucleus कहलाता है) होते है |
  • स्वायत्त तंत्रिका तंत्र (ANS) : यह आंतरिक अंगों तक विस्तारित तंत्रिका तंतुओं से बना होता है और शरीर के अनैच्छिक कार्य जैसे ह्रदय संकुचन , क्रमाकुंचन आदि को नियंत्रित करता है | यह अनुकम्पी (sympathetic) और परानुकम्पी (parasympathatic) तंत्र का बना होता है |

तंत्रिका तंत्र निम्न भागों में विभाजित किया जा सकता है –

  • कायिक तंत्रिका तंत्र (somatic nervous system) – जो केवल कायिक अंगों जैसे कंकालीय पेशी को उत्तेजित करता है और इसमें स्वायत्त खण्ड के अलावा CNS और PNS दोनों सम्मिलित होते हैं |
  • आंतरिक और स्वायत्त तंत्रिका तंत्र (Visceral or autonomic nervous system) : जो आंतरिक अंग जैसे चिकनी पेशी , ह्रदय पेशी और ग्रंथीय उत्तकों को उत्तेजित करते है |

मस्तिष्क और मेरूरज्जु के आवरण :

  • अस्थिल आवरण : कपालीय अस्थियाँ मस्तिष्क के चारों तरफ और कशेरुकाएं मेरुरज्जु के चारों तरफ होती है |
  • झिल्लीमय आवरण (= meninges) – तीन आवरण
  • Dura mater – बाह्यतम आवरण , अस्थिल आवरण के ठीक नीचे स्थित होती है | सघन और अत्यधिक संवहनीय सफेद तंतुमय ऊतक की बनी होती है | मस्तिष्क और तंत्रिका रज्जु को सहारा प्रदान करती है और रक्त के शिरा प्रवाह (Venous dranage) के लिए उत्तरदायी होती है |
  • Arachnoid membrane : मध्य , नाजुक , तंतुमय आवरण होता है और subdural cavity द्वारा ड्यूरामेटर से पृथक होता है जो एक serous fluid की पतली परत के रूप में विभक्त रिक्त स्थान होता है |
  • Piamater : आंतरिक , अत्यधिक संवहनीय , मस्तिष्क और मेरूरज्जू से समीपस्थ आसंजित परत होती है | यह एक Arachnoid membrane से subarachnoid space द्वारा पृथक रहती है जो स्पंजी संयोजी ऊत्तक और सेरेब्रोस्पाइनल तरल से भरी होती है |

Meninges का inflammation घातक रोग है जिसे meningitis कहते हैं |

मस्तिष्क के विभिन्न भागों की संरचना और कार्य : सामान्य तंत्रिका तंत्र का विशिष्टीकरण और स्तनधारियों में विशेषतया मस्तिष्क का विशिष्टीकरण अत्यधिक महत्वपूर्ण लक्षण हैं | प्राइमेट्स में यह अधिक होता है | मानव में यह अत्यधिक विकसित होता है | इसलिए मानव मस्तिष्क शरीर आकार की तुलना अत्यधिक बड़ा होता है | वयस्क आदमी में इसका औसत भार 1380 ग्राम और वयस्क औरत में 1250 ग्राम होता है | यह निम्न प्रकार विभाजित किया जाता है –

  • अग्रमस्तिष्क (प्रोसेन सिफेलोन) : इसमें घ्राण पिण्ड (rhinencephalon) , सेरेब्रम (telencephalon) और Diencephalon शामिल किया जाता है |
  • मध्य मस्तिष्क (मिसेनसिफेलोन) : इसमें प्रमस्तिष्क पेडन्कल्स (cerebral peduncles ) , चार गोल eminences क्वाड्रीजेमिना और Crura cerebrii शामिल होते हैं |
  • पश्च मस्तिष्क (Rhombencephalon) : इसमें अनुमस्तिष्क (cerebellum) , पोन्स (pons) और मेड्युला ऑबलोगेटा (medulla oblongata) शामिल हैं |