कार्बन प्रतिरोध तथा वर्ण कोड क्या है , कैसे लिखते है carbon resistance and colour codes

By  
carbon resistance and colour codes for carbon resistance कार्बन प्रतिरोध तथा वर्ण कोड : विद्युत तथा इलेक्ट्रॉनिकी में उपयोग आने वाले प्रतिरोध कई प्रकार के हो सकते है जैसे तार आबद्ध प्रतिरोधक और कार्बन प्रतिरोध इत्यादि।

तार आबद्ध प्रतिरोधक कम प्रतिरोध वाले होते है इनसे अधिकबड़े प्रतिरोध नहीं बना सकते अधिक मान के  प्रतिरोध बनाने के लिए  कार्बन प्रतिरोध उपयोग में लाये जाते है।
आपने इलेक्ट्रॉनिक परिपथ देखा होगा तो निश्चित रूप से कार्बन प्रतिरोध को भी देखा होगा हम यहाँ फोटो दिखा रहे है यह छोटे से छोटे व बड़े से बड़े परिपथ में देखा जा सकता है
अब आप सोच रहे होंगे की ये अलग अलग रंग के क्यों है , हम आपको बता दे की रंग वर्ण कोड कहलाते है इन रंगो से आप यह पता लगा सकते है की कोनसा प्रतिरोध कितने ओम का है। ]

आइये वर्ण कोड को पढ़ना सीखते है

सिरे से पहली दो धारियां ओम में प्रतिरोध के पहले दो सार्थक अंको को निर्देशित करती है।
तीसरी धारी दशमलव गुणांक को दर्शाती है।
अंतिम धारी प्रतिरोध में प्रतिशत विचरण को दर्शाती है इसे पता चलता है की यह इतने प्रतिशत कम या अधिक हो सकता है।
उदाहरण :

वर्ण कोड सारणी

Colour Digit Multiplier Tolerance
Black 0 1
Brown 1 10 ± 1%
Red 2 100 ± 2%
Orange 3 1,000
Yellow 4 10,000
Green 5 100,000 ± 0.5%
Blue 6 1,000,000 ± 0.25%
Violet 7 10,000,000 ± 0.1%
Grey 8 ± 0.05%
White 9
Gold 0.1 ± 5%
Silver 0.01 ± 10%
None ± 20%

उदाहरण :

निम्न कार्बन प्रतिरोध का प्रतिरोध मान ज्ञात कीजिये
पहला रंग हरा है , हरा = 5
दूसरा रंग लाल है , लाल = 2
तीसरा रंग Gold है , Gold = 0.1
चौथा रंग सिल्वर है , सिल्वर = ± 10%
अतः यह निम्न प्रकार लिखा जायेगा 
2 प्रारम्भ डिजिट x तीसरा रंग गुणक + टॉलरेंस 
52 x 0.1 ± 10%
5.2 ± 10% Ω