C++ : Default Parameter or Function Overloading in hindi , what is Default Parameter or Function Overloading c++ language

By  
what is Default Parameter or Function Overloading c++ language , C++ : Default Parameter or Function Overloading in hindi :-
इससे पहले के article मे , function के basic structure , function के type और function के उदाहरानो को discuss किया | अब इस article मे function  overloading को discuss करेगे |Function Overloading
जब किसी दो या दो अधिक functions जिनका नाम same होता है लेकिन arguments अलग अलग होता है तब function overloading कहते है | इस article मे function overloading को discuss करेगे |
function किसी programming का एक छोटा सा segment होता है जो एक sepecfic कार्य के लिए बनाया जाता है | c++ language मे , दो सामान नाम वाले function को अलग अलग consider किया जाता है अगर इसमें pass argument की सख्या और type अलग अलग होती है |
दो function जिनका नाम सामान होता  है लेकिन argument की सख्या और type अलग अलग होता है उन functions को overload function कहते है | उदाहरन के लिए :
int add(){}
int add(int a ){}
int add(int a ,int b ){}
int add(int a , float b){}
इस उदहारण मे चार function होता है | उपर दिए गये function का नाम add( ) है लेकिन ये सभी function को अलग अलग consider किया जाता है | overload function मे argument अलग अलग होना चाहिए लेकिन return statement का अलग होना complusy नहीं होना चाहिए | अतः निन्म function function overload function नहीं है :
int add(int){}
float add(int , int ) {}
इन उदहारण मे  int add(int){} और float add(int , int ) {} overload function नहीं है |क्योकि दोनों functions का return type अलग अलग होता है |
#include <iostream>
#include<conio.h>
using namespace std;
// Function prototype (declaration)
void print (int);
void print (float);
void print(double);
void  main()
{
int number ;
float number1;
float number2;
cout<<“Enter integer number : “;
cin >> number;
cout<<“Enter float number : “;
cin >> number1;
cout<<“Enter double number : “;
cin >> number2;
// Function call
print(number);
print(number1);
print(number2);
getch();
}
void print (int a)
{
cout<<“You enter integer”<<a;
}
void print ( float a)
{
cout<<“You enter float value “<<a;
}
void print (double a)
{
cout<<“You enter double value “<<a;
}
इस उदहारण मे  void print (int); , void print (float); और  void print(double); overload functions है इन सभीfunction का type void है लेकिन इसमें pass किये जाने वाली value का type अलग अलग होता है | in function मे return type सामान है |

function overloading का उदहारण :
#include <iostream>
#include<conio.h>
using namespace std;
// Function prototype (declaration)
float  RoundOff( int );
int  RoundOff(float);
void  main()
{
int number ;
float number1;
float number2;
cout<<“Enter integer number : “;
cin >> number;
cout<<“Enter float number : “;
cin >> number1;
cout<<“round off value of number :”<<RoundOff( number ) <<endl;
cout<<“round off value of number1 :”<<RoundOff( number1 ) <<endl;
getch();
}
int RoundOff(int a)
{
if(a<0)
a=-a;
return a;
}
float  RoundOff(int a)
{
if(a<0.0)
a=-a;
return a;
}
इस उदाहरन मे , float  RoundOff( int ); और  int  RoundOff(float); overload function है | इन function का return type और argument type दोनों  ही अलग अलग होता है |
पहले function मे integer type variable को pass किया जाता है | और दुसरे function मे float type value pass किया जाता है |

Default value
c++ language मे function parameter की default value को initial किया जा सकता है | एसे argument को default parameter कहते है |जब किसी argument को function मे call नहीं किया जाता है तब इन parameter को default parameter कहते है | default parameter को function prototype मे pass किया जाता है | इसका उदहारण निन्म है :-
#include <iostream>
#include<conio.h>
using namespace std;
// Function prototype (declaration)
void printline (int i =1 , char = ‘*’)
void  main()
{
int number ;
float number1;
cout<<“Enter integer number : “;
cin >> number;
cout<<“Enter float number : “;
cin >> number1;
printline ();
cout<<” You enter :”<<number<<endl;
printline(“#”);
cout<<“You enter :”<<number1<<endl;
printline(5,’$’);
getch();
}
void printline(int n , char c)
{
for(int i=0;i<n;i++)
{
cout<<c;
}
}
इसका आउटपुट होगा :
Enter integer number : 12
Enter float number : 12.22
*
You enter : 12
#
You enter : 12.22
$$$$$

इस उदहारण मे जब
printline() को call किया जाता है | तो इसमें कोई भी argument pass नहीं किया जाता है इसलिए इसमें default char = ‘*’ ओत int i= 1 को use किया जाता है |
और
printline(“#”) को call किया जाता है तो इसमें केवल एक argument को पास किया गया है इसलिए इसमें दुसरे argument की default value को consider किया जाता है |
और
printline(5,’$’); को call किया जाता है इसमें दोनों argument को पास किया जाता है |

default value को use करने के लिए निन्म rules को फॉलो किया जाता है :-
1.किसी default parameter को normal parameter से मिक्स नहीं किया जाता है |उदहारण के लिए
int add(int a , int b =3, int c );
ये उदाहरण error message देता है क्योकि default parameter ‘b’ को नार्मल parameter के बीच declare किया गया है |
2.अगर एक बार default parameter को देकाल्रे कर दिया जाता है तब उसके बाद सभी value को default parameter बनाना पड़ता है | उदाहरन के लिए
int add(int a=9 , int b =3, int c );
ये उदाहरन भी error message देता है क्योकि default parameter ‘b’ के बाद सभी parameter भी default होता है |