C++ : Boolean And Float Data Type in hindi , what is Boolean And Float Data Type in c++ language computer programming

By  
what is Boolean And Float Data Type in c++ language computer programming , C++ : Boolean And Float Data Type in hindi  :
इससे पहले के article मे integer और character data type को discuss किया था |अब इस article मे , fundamental data type मे से Boolean और float data type को discuss करेगे |
Boolean Data Type
c++ मे एक नया data type को design किया गया जिसे Boolean data type कहते है |इसका नाम English mathematician George Boole के नाम पर रखा गया है |Boolean data type एस data type है जिसकी value true या false हो सकती है |C language मे कोई Boolean type नहीं होती है | इस type का use looping और branching के लिए किया जाता है |
इस type मे non zero value को true से consider किया जाता है और zero value को false से consider किया जाता है |इससे bool से declare किया जाता है | इसके अलावा true और false दो keyword होते है |इसका उदाहरन होता है :-
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
using nameapace std;
char c;
bool check=true;
cout<<“Enter Character”<<endl;
cin>>c;’
if(c==’a’)
{
check=false;
}
if(check== false)
{
cout<<“Welcome Back !”<<c<<“in the world of C++.”<<endl;
}
else
{
cout<<“Welcome !”<<c<<“in the world of C++.”<<endl;
}
getch();
}इस उदाहरन मे , check एक boolean data type है जिसे true से intail किया गया है |अगर यूजर द्वारा दिए गयी value ‘a’ होती है तब check variable की value false हो जाती है |
इसके बाद check variable की value को check किया जाता है अगर check की value false है तब Welcome Back ! a in the world of C++. print होगा |अन्यथा Welcome ! a in the world of C++. display होगा |

Const Qualifier
C++ मे किसी constant को define करने के लिए const keyword को use किया जाता है |अगर किसी constant को प्रोग्राम मे use किया जाता है तब कई अवसर पर इसकी value को change करने की जरुरत पड़ सकती है | अतः किसी constant को define करने के लिए macro को भी use किया जा सकता है |लेकिन C++ मे const को ही use किया जाता है |इसका syntax होता है :
const data type constant_name = value ;

यहा पर :
const : ये keyword है |
datatype : ये constant के data type को define करता है |
constant_name : ये constant का नाम होता है |
value : ये constant की value होती है |

उदाहरण के लिए :

#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void main()
{
using nameapace std;
int a, sum ;
const int size=23;
cout<<“Enter Data”<<endl;
cin>>a;’
sum=a+size;
cout<<“Sum is”<<sum<<endl;
int diff= size-a;
cout<<“Difference is”<<diff<<endl;
getch();
}

इस उदाहरण मे , size एक constant है |जिसकी value 23 है |
जब sum=a+size; perform होता है तब size की जगह 23 replace हो जाती है |
और diff= size-a; मे भी size की जगह पर 23 replace हो जाती है |

अगर किसी constant variable की value को initial करने के बाद इसकी value को change नहीं कर सकते है|अगर कोई प्रोग्रामर एस करना चाहता है तो compiler error message दे देता है |
अतः इस error से बचने के लिए ,प्रोग्रामर को याद रखना होगा की size एक constant है |या इस variable के नाम के first letter को capital कर देना चाहिए |

Float Data Type
Float Data Type c++ का integer के बाद सबसे ज्यादा use होने वाले data type है |Float Data Type से fractioal number को define किया जाता है |जैसे 2.123 और 3.46565 आदि |
Computer , इन number को दो parts मे store करता है |पहले पार्ट value को define करता है और दूसरा पार्ट scale को define करता है |उदाहरण के लिए
2.342 के लिए 0.2342 (base value) और 10 (scale value) है | इस method को scaling method कहते है | जिसमे decimal को shift किया जाता है |अगर decimal को 4 position shift किया गया है तब इसकी scale value 10000 होगी |

Writing Float Data Type
C++ मे Float Data Type को दो प्रकार से लिख सकते है |
1.Standard Decimal Point
इस प्रकार को हम daily life मे use करते है | जिसमे decimal को दोनों तरह number होते है |जैसे :
1.23
123.33
6.0
0.0023
उप्पेर दी गयी सभी value Float Data है |जिसमे decimal के दोनों तरह number है |
2. Exponential method
इस method को e notation भी कहते है | इस method का बहुत बड़ी Float Data को define करने के लिए किया जाता है |जैसे
3.45e5 इस Float Data  का मतलब है 3.45 multiply by 100000
इस उदाहरण मे 3.45 को mantissa भी कहते है |और 5 को exponation कहते है |

Float Data Type
Float Data को define करने के लिए तीन data type है :
1.Float Data Type
2.Double Data Type
3.Long Data Type
तीनो ही data type की size अलग अलग होती है | Float Data Type के लिए 32 बिट data को store कर सकता है और Double Data Type के लिए 48 बिट data sufficient होता है | long double की size 80,96 और 128 होती है |in तीनो data type की range -37 से +37 होती है |
इस float type की limit को देखने के लिए cfloat.h या cfloat मे देखा सकते है |

नीचे दी गयी table मे तीनो data type की digits की limit है :

float data type
6
double data type
15
long double data
type
18

नीचे दी गयी table मे तीनो data type के द्वारा किसी number को represent करने के लिए ली जाने वाली digits की सख्या है :

float data type
24
double data type
53
long double data type
64

नीचे दी गयी table मे तीनो data type की maximum exponent value है :

float data type
38
double data type
308
long double data type
4932
 

नीचे दी गयी table मे तीनो data type की minimum exponent value है :

float data type
– 37
double data type
– 307
long double data type
– 4931
 

इस article मे , boolean और floating data type को discuss किया गया है अब आगे के article मे operation को discuss करेगे |