जैव अणु और अमीनो अम्ल Biomolecule and Amino acid in hindi

जैव अणु (Biomolecule) : जीव उत्तको में मिलने वाले सभी कार्बनिक
यौगिको को जैव अणु कहते है , जैसे : प्रोटीन , वसा , कार्बोहाइड्रेट आदि होते है |

जीवन : सजीव पदार्थ अथवा संगठित पदार्थ की जैव दशा ही जीवन है |
संगठित पदार्थ : सभी सजीवो में मूलभूत पदार्थ कार्बन , हाइड्रोजन ,
ऑक्सिजन , नाइट्रोजन जैसे कार्बनिक व अकार्बनिक पदार्थ संगठित होकर कोशिका के अवयव
बनाते है |
रासायनिक संघटन का विश्लेषण : जीवों में कार्बनिक यौगिक किसी रूप में
मिलते है , यह जानने के रासायनिक विश्लेषण करते है , इसके लिए सजीव उत्तक को लेकर
ट्राइक्लोरोएसिटिक अम्ल के साथ पिसते है जिससे गाढ़ा रस बन जाता है जिसे कपडे में
रखकर छान लेते है | क्षणिक का प्रयोगशाला में विश्लेषण करने पर हजारों कार्बनिक
यौगिक प्राप्त होते है |
भस्म : अकार्बनिक यौगिको के विश्लेषण के लिए सजीव ऊत्तक को लेकर जलाते
है जिससे कार्बनिक यौगिक वास्तविक होकर अलग हो जाते है , बचे हुए पदार्थ को भस्म
कहते है | भस्म में अनेक अकार्बनिक यौगिक होते है |
सजीव व निर्जीव में पाये जाने वाले तत्व निम्न है –
 तत्व
 भू – पर्पटी में (%)
 मनुष्य शरीर में (%)
 1. हाइड्रोजन (H)
 0.14
 0.5
 2. कार्बन (C)
 0. 03
 18.5
 3. ऑक्सीजन (O)
 46.6
 65
 4. नाइट्रोजन (N)
 बहुत कम
 3.3
 5. सल्फर (S)
 0. 03
 0. 3
 6. सोडियम (Na)
 2.8
 0.2
7. कैल्शियम (Ca)
3.6
1.5
8. मैग्नीशियम (Mg)
2.1
0.1
9. सिलिकॉन (Si)
27.7
नगण्य

जीव उत्तकों में पाए जाने वाले अकार्बनिक तत्व :-

घटक 
सूत्र
सोडियम (Na)
Na+
पोटेशियम (K)
K+
कैल्शियम (Ca)
Ca++
मैग्नीशियम (Mg)
Mg++
जल (H2O)
H2O

 

अमीनो अम्ल (Amino acid) : एमिनो अम्ल कार्बनिक यौगिक होते है , अमीनो अम्ल के अणु में एक कार्बन परमाणु होता है , कार्बनिक की चारों संयोजकताओ में से एक संयोजकता हाइड्रोजन परमाणु से दूसरी कर्बोक्सिलिक समूह , तीसरी अमीनो समूह तथा चौथी संयोजकता एल्किल समूह से संतुष्ट होती है।
अमीनो अम्ल एक दूसरे से जुड़कर पेप्टाइड बंध बनाते है तथा जल का अणुमुक्त करते है , अमीनो अम्लो की लम्बी श्रृंखला को पोली पेप्टाइड या प्रोटीन कहते है।
एल्किल समूह की प्रकृति के आधार पर अमीनो अम्ल अनेक प्रकार के होते है परन्तु 21 प्रकार के अमीनो अम्ल अनिवार्य होते है।

अमीनो अम्लों के भौतिक व रासायनिक गुण

मुख्यत: एमिनो समूह कार्बोक्सिलिक समूह व एल्किल समूहों पर अमीनो अम्लों के भौतिक व रासायनिक गुण निर्भर करते है , अमीनो व कार्बोक्सीलिक समूहों की संख्या के आधार पर अमीनो अम्ल निम्न प्रकार के होते है –
  • अम्लीय – ग्लुटामिक अम्ल
  • क्षारीय – लाइसिन
  • उदासीन – वेलीन

एल्किल समूहों के आधार पर कुछ अमीनो अम्ल एरोमेटिक प्रकृति के भी होते है जैसे –

  • यरोसीन
  • फेनिल एनेनिन
  • ट्रिप्टोफेन

अमीनो अम्लों में अमीनो समूह व कार्बोक्सिलिक समूहों की उपस्थिति के कारण ये आयनिक प्रकृति के होते है , अमीनो अम्लों की विलेयता विभिन्न pH विलायकों में भिन्न भिन्न होती है।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *