जीवोम किसे कहते हैं | जीवोम की परिभाषा लिखिए। एक उदाहरण दीजिए। biome in hindi meaning

By  

biome in hindi meaning  जीवोम किसे कहते हैं | जीवोम की परिभाषा लिखिए। एक उदाहरण दीजिए। 

संघटता के स्तर (Levels fo Organçation)- व्यष्टि से जैवमंडल तक
पर्यावरण में सजीव जीवधारियों को निम्नलिखित छह पदानुक्रमी संघटना स्तरों में व्यवस्थित किया जा सकता हैरू

व्यष्टि (Individuals)
किसी भी सजीव तंत्र की आधारभूत इकाइयाँ व्यष्टिगत जीव होते हैं। आनुवंशिक पदार्थ का विनिमय यानी जनन और उससे होने वाला प्रगुणन जीवों के स्तर पर होता है। और इस . प्रकार स्पीशीज का पर्यावरण के प्रति अनुकूलन व्यष्टिगत जीव के स्तर पर होता है।

समष्टि (Population)
आवास के भीतर किसी पीड़क स्पीशीज की तमाम व्यष्टियों को एक साथ मिलाकर समष्टि कहा जाता है। उदाहरणतः चावल के किसी खेत में चावल के तना छेदक की तमाम व्यष्टियां मिलकर समष्टि कहलाएंगे। इसी प्रकार चावल के खेत में किसी मकड़ी स्पीशीज की। तमाम व्यष्टियां उसकी समष्टि कहलाएंगे। पीड़क स्पीशीज की व्यष्टियों में होने वाली परस्पर प्रतिस्पर्धा अंतः प्रजातीय अंतःस्पीशीजी प्रतिस्पर्धा (intrsapecific competition) कहलाती है।

जैविक समुदाय (Biotic community)
किसी एक आवास में जीवों की समस्त समष्टियों को एक साथ मिलाकर जैविक समुदाय का नाम दिया जाता है। उदाहरण के लिए, चावल के खेत में अनेक समष्टियां आएंगी- चावल के पौधे की समष्टि, खरपतवारों की समष्टि, सभी पीड़कों जैसे चावल का तना बेधक, भूरा पादप फुदका, स्टिंक बग आदि की समष्टियां, प्राकृतिक शत्रुओं जैसे मकड़ियों, कॉक्सीनेलिडो की समष्टियां, परजीवों एवं रोगजनकों की समष्टियां, और अन्य जीवों की भी समष्टियां। किसी पीड़क स्पीशीज की व्यष्टियां आपस में प्रतिस्पर्धा करती हो सकती हैं (अंतः प्रजातीय प्रतिस्पर्धा) और वे अन्य स्पीशीज की व्यष्टियों से भी प्रतिस्पर्धा करती हैं। भिन्न स्पीशीज की व्यष्टियों के बीच होने वाली प्रतिस्पर्धा को अंतर्ग्रजातीय (अंतरास्पीशीज) प्रतिस्पर्धा (interspecific competition) कहते हैं।

पारितंत्र (Ecosystem)
जैविक समुदाय की अपने पर्यावरण के भौतिक कारकों जैसे ताप, आर्द्रता, सौर प्रकाश, मृदा एवं पवन आदि के साथ लगातार परस्पर क्रिया होती रहती है, उससे पैदा होने वाले तंत्र को पारितंत्र कहते हैं। पारितंत्र पर्यावरण की मूलभूत इकाई कही जाती है क्योंकि इसमें पर्यावरण के जैविक तथा भौतिक दोनों प्रकार के कारक शामिल होते हैं। इस प्रकार परिभाषा के तौर पर कहा जा सकता है कि पारितंत्र वह आत्म परिपूर्ण आवास है जिसमें जैविक समुदाय की भौतिक पर्यावरण के साथ लगातार परस्पर क्रिया होती रहती हैं। और उसके फलस्वरूप एक सुस्पष्ट पोषण संरचना, समुदाय के भीतर सतत् ऊर्जा-प्रवाह होते रहना एवं जैविक तथा भौतिक घटकों के बीच सामग्री का चक्र चलते रहना होता रहता है।

जीवोम (Biome)
समान प्रकार के पारितंत्र एक साथ मिलकर जीवोम (बायोम) कहलाते हैं। उदाहरणतः थल के समस्त उष्णकटिबंधीय वन परस्पर मिलकर उष्ण कटिबंधीय वन जीवोम बनाते हैं तथा शीतोष्ण पर्णपाती वन (temperate deciduous forests) शीतोष्ण वन कहलाएंगे अथवा घास स्थल पारितंत्र मिलकर घास स्थल जीवोम (grsaland biome) बनाएंगे।

जैवमंडल (Biosphere)
पृथ्वी पर एवं पृथ्वी के इर्द-गिर्द समस्त आवासशील स्थान जिसमें जीवन विद्यमान रह सकता है, कुल मिलाकर जैवमंडल कहलाता है। जैवमंडल को सभी बायोमों का समुच्चय कह कर भी परिभाषित किया जा सकता है।

बोध प्रश्न 2
प) समष्टि किसे कहते हैं?
पप) श्श्जैविक समुदायश्श् से क्या अभिप्राय है?
पपप) जीवोम की परिभाषा लिखिए। एक उदाहरण दीजिए।

उत्तरमाला

2) प) किसी एक विशिष्ट स्थान पर एक विशिष्ट समय पर पायी जाने वाली प्रजाति के व्यष्टियों की संख्या को समष्टि कहते हैं।
पप) किसी आवास में रह रही तमाम प्रजातियों के समूह को जैविक समुदाय कहते हैं।
पपप) एक ही प्रकार के पारितंत्रों को एक साथ मिलाकर जीवोम कहते हैं। उदा. रेगिस्तान