Address variable in c++ language , Address variable within Function , Reference variable in hindi

By  
इससे पहले के article मे inline function को discuss किया गया है | inline function को function की जगह use किया जाता है | इससे प्रोग्राम की speed को बढ़ जाता है | अब इस article मे address variable को discuss करेगे |Address variable
c++ मे नए compund variable को add किया गया है | जिसे address variable कहते है | reference का नाम जो की alias की तरह कार्य करता है | उदहारण के लिए variable name का reference n है अतः name और n दोनों को ही variable use किया जा सकता है | जब किसी reference को  argument की तरह कार्य करता है तब function orginal data की जगह  इसकी copy को use किया जाता है |  reference variable को pointer variable की जगह use किया जाता है |

Creating Reference variable
C or C++ languagr मे  “&” operator को किसी operator के address को define किया जाता है | c++ language मे  किसी variable को ‘&’ से declare किया जाता है | तब इसे address variable कहते है | इस variable को address को define करने के लिए किया जाता जाता है | उदाहरन के लिए ‘a’ एक variable है और name एक address variable है |
int a =10 ;
int &name = a;
इस उदाहरन मे ‘&’ का variable के address को define नहीं करा रहा है | बल्कि ये address variable को define कर रहा है | जैसे char * : इस type से character type के pointer को define करा रहा है | इसी तरह int & : इस type से integer type के address variable को define करता है | reference declartion name और a को interechange करने की facility provide करवाता है | लेकिन दोनों variable एक ही memory address और value को contain करता है |
उदहारण के लिए :
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
#include<string.h>
void main()
{
using namespace std;
int n=101;
int &number= n;
cout<<“value of n : “<<n<<endl;
cout<<“value of number : “<<number<<endl;
number++;
cout<<“value of n : “<<n<<endl;
cout<<“value of number : “<<number<<endl;
cout<<“Address of n :”<<&n;
cout<<“Address of number :”<<&number;
getch();
}
इस उदाहरन मे number address variable नहीं  है | लेकिन number variable , integer type के address को define करता है | इसके अलावा  cout<<“Address of n :”<<&n; और cout<<“Address of number :”<<&number; मे use किये गया &n और &number address variable है | और n और number की value और address सामान होती है | जब number की value को increment किया जाता है | दोनों variable की value बढती है |  C language मे , address variable को use करना थोडा confuse होता है लेकिन c++ language मे इसे pointer variable को use किया जाता है | इसके लिए उदहारण निन्म है |
int n =10 ;
int &name = a;
int *num=&n;
इस उदाहरन मे , num और n दोनों एक ही variable है |  लेकिन name = n को use नहीं करा सकते है | लेकिन इसके लिए निन्म उदाहरन है :
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
#include<string.h>
void main()
{
using namespace std;
int n=101;
int &number= n;
cout<<“value of n : “<<n<<endl;
cout<<“value of number : “<<number<<endl;
int second = 12 ;
number = second ;
cout<<“value of second : “<<second<<endl;
cout<<“value of n  : “<<n<<endl;
cout<<“value of number  : “<<number<<endl;
cout<<“Address of second :”<<&n;
cout<<“Address of number :”<<&number;
getch();
}
इस उदहारण मे , number = second ; execute होता है | इसके second की value को number मे assign हो जाता है | लेकिन second और number का address value अलग अलग होता है | लेकिन number और second का address सामान है |

Address variable within Function
reference को function मे parameter की तरह use किया जाता है | जब किसी variable नाम को किसी variable से call किया जाता है |जब किसी reference को function मे pass किया जाता है इसे passing by reference कहते है | passing by reference method मे , called function से variable को calling function से access किया जाता है | इस method मे variable के copy को use किया जाता है | function को तीन method से call किया जाता है |
call by value : value को function मे pass किया जाता है |
call by address  : address और pointer variable  को function मे pass किया जाता है |
call by reference : reference variable  को function मे pass किया जाता है |

इसका उदाहरन निन्म है :
#include<iostream.h>
#include<conio.h>
void swapreference(int & a , int & b );
void swappointer(int *p , int *q);
void swapvalue(int a , int b );
void main()
{
int value1 = 100;
int value2 = 200;
cout<<“Value1 :”<<value1;
cout<<“value 2 : “<< value2 ;
cout<<“Swap with reference :”<<endl;
swapreference(value1 , value2 );
cout<<“Value1 :”<<value1;
cout<<“value 2 : “<< value2 ;
cout<<“Swap with pointer :”<<endl;
swappointer(value1 , value2 );
cout<<“Value1 :”<<value1;
cout<<“value 2 : “<< value2 ;
cout<<“Swap with value :”<<endl;
swapvalue(value1 , value2 );
cout<<“Value1 :”<<value1;
cout<<“value 2 : “<< value2 ;
getch();
}
void swapvalue(int a ,int b )
{
int tenp ;
temp = a;
a=b;
b=temp ;
}
void swapreference(int & a , int & b )
{
int temp;
temp = a;
a=b;
b=temp ;
}
void swappointer(int *p , int *q)
{
int *  a;
*a=*p;
*p=*q;
*q=*a;
}

इस उदहारण मे swaping function को तीन अलग अलग तरीके से बनाया जाता है |
void swappointer(int *p , int *q); इस function मे pointer variable को use किया जाता है |
void swapvalue(int a ,int b ) ; इस function मे value को use किया जाता है |
void swapreference(int & a , int & b ) ; इस function मे reference variable को use किया जाता है | इसका आउटपुट होगा :
value1 : 100
value2:  200
Swap with reference :
value1 : 200
value2: 100
Swap with pointer :
value1 : 200
value2: 100
Swap with value :
value1 : 200
value2: 100

इस article मे reference variable को discuss किया है | आगे वाले reference variable को दुसरे data type के साथ discuss करेगे |