सॉफ्टवेयर को Uninstall कैसे करें? how to uninstall software from computer in hindi windows 10, 9, 7

By  

how to uninstall software from computer in hindi windows 10, 9, 7 सॉफ्टवेयर को Uninstall कैसे करें? कंप्यूटर से ?

सॉफ्टवेयर को Uninstall कैसे करें?
Window XP में कंप्यूटर में प्रयोग होनेवाले सभी सॉफ्टवेयर की सेटिंग रहती है, अतः यदि कोई सॉफ्टवेयर हटाया या बदला जाता है तो उसका इंस्टॉलेशन भी हटाना होता है। Uninstall करने के लिए निम्न स्टेप लेते हैं
1. सॉफ्टवेयर को Uninstall करने के लिए Start बटन पर क्लिक करके Control Panel पर जाएँ।
2. Window XP के Control Panel पर जाकर Add or Remove Programs के Icon पर डबल क्लिक करें।
3. उस प्रोग्राम को माउस द्वारा सिलेक्ट करिए, जिसे Uninstall करना चाहते हैं। इसके बाद Uninstall के बटन पर क्लिक कर दीजिए।
इस तरह किसी भी सॉफ्टवेयर को विधिवत् समाप्त किया जा सकता है।

हार्डवेयर को कैसे हटाएँ
सामान्यतः लोग कंप्यूटर से किसी भी हार्डवेयर को हटाते समय यह ध्यान नहीं रखते कि उसका संबंधित ड्राइवर प्रोग्राम भी हटा देना चाहिए, अन्यथा उस हार्डवेयर की अनुपस्थिति में Window जब उसे नहीं पाएगा तो एक
4. MIDi~ Port विकल्प पर क्लिक करें और सेटिंग बनाएँ।
इस तरह आपका Sound Card MIDI डिवाइस के लिए सेट हो जाता है।

सॉफ्टवेयर को Uninstall कैसे करें?
Window XP में कंप्यूटर में प्रयोग होनेवाले सभी सॉफ्टवेयर की सेटिंग रहती है, अतः यदि कोई सॉफ्टवेयर हटाया या बदला जाता है तो उसका इंस्टॉलेशन भी हटाना होता है। Uninstall करने के लिए निम्न स्टेप लेते हैं
1. सॉफ्टवेयर को Uninstall करने के लिए Start बटन पर क्लिक करके Control Panel पर जाएँ।
2. Window XP के Control Panel पर जाकर Add or Remove Programs के Icon पर डबल क्लिक करें।
3. उस प्रोग्राम को माउस द्वारा सिलेक्ट करिए, जिसे Uninstall करना चाहते हैं। इसके बाद Uninstall के बटन पर क्लिक कर दीजिए।
इस तरह किसी भी सॉफ्टवेयर को विधिवत् समाप्त किया जा सकता है।

हार्डवेयर को कैसे हटाएँ
सामान्यतः लोग कंप्यूटर से किसी भी हार्डवेयर को हटाते समय यह ध्यान नहीं रखते कि उसका संबंधित ड्राइवर प्रोग्राम भी हटा देना चाहिए, अन्यथा उस हार्डवेयर की अनुपस्थिति में Window जब उसे नहीं पाएगा तो एक Error मेसेज दिखाएगा। यदि आपने कंप्यूटर से कोई हार्डवेयर हटाया है तो उसका ड्राइवर प्रोग्राम भी हटा देना चाहिए। इसके लिए निम्न स्टेप लेते हैं
1. Window XP के Start बटन पर क्लिक करके Control Panel पर क्लिक करें।
2. Control Panel का डायलॉग बॉक्स खुल जाएगा।
3. System के Icon पर क्लिक करें।
4. Hardware विकल्प के अंतर्गत Device Manager के बटन पर क्लिक करने से डिवाइसेज की लिस्ट सामने आती है।
5. अब माउस द्वारा उस डिवाइस को सिलेक्ट करें, जिसे हटाना चाहते हैं। इसके बाद Remove बटन पर क्लिक करें अथवा Refres बटन पर क्लिक करें।

सिस्टम टूल्स और मेंटेनेंस
विंडोज एक्सेसरीज में सिस्टम टूल्स का प्रयोग करके कंप्यूटर और उसके स्टोरेज मीडिया का मेंटेनेंस कार्य किया जाता है। System Tools विकल्प पर जाने की विधि है
1. Window XP के Destop में Start बटन पर क्लिक करके पॉइंटर को Programs पर ले जाएँ।
2. पॉइंटर Accesories पर ले जाएँ।
3. अब जब System Tools पर पॉइंटर ले जाते हैं तो स्क्रीन पर उन सभी टूल्स की लिस्ट आ जाती है, जिन्हें प्रयोग करके आप System Tools में मेंटेनेंस कर सकते हैं।
4. अब आप किसी भी System Tools को प्रयोग कर सकते हैं। यदि आप Disk को साफ करना चाहते हैं तो Dis Cleanup विकल्प पर क्लिक करें, जिससे Select äive डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर आएगा।
5. Select äive डायलॉग बॉक्स में äives विकल्प में उस ड्राइव को सिलेक्ट करें, जिसे आप Clean करना चाहते हैं।
6. अब व बटन पर क्लिक करें। इससे आपके द्वारा सिलेक्ट की गई äive Clean होने लगती है और उसके पश्चात् निम्न प्रकार की स्क्रीन मॉनीटर पर दिखाई देती है
7. उपर्युक्त डायलॉग बॉक्स में उन फाइलों को सिलेक्ट करें, जिन्हें आप Delete करना चाहते हैं और अंत में OK बटन पर क्लिक करें। इससे फाइल कंप्यूटर से हट जाएँगी।

बैकअप कैसे बनाएँ?
कंप्यूटर में हार्डडिस्क पर स्टोर किए गए डेटा को सुरक्षित रखने के लिए यदि आप उसे सी.डी. पर कॉपी करना चाहते हैं तो उस समय समस्या आती है जब फाइल का साइज आपकी सी.डी. की क्षमता से अधिक होता है।
बैकअप बनाते समय आपके द्वारा बैकअप में दी गई सेटिंग के अनुसार फाइलों को सामान्य या Compresed अवस्था में (साइज छोटा करके) सी.डी. पर इस तरह कॉपी किया जाता है कि यदि उसका साइज डिस्क से बड़ा है तो लगातार दूसरी डिस्क लगाते जाएँ और जितनी डिस्क भी आवश्यक हो, उन्हें एक श्रृंखला (Chain) के रूप में रखा जा सके।
बैकअप बनाई गई फाइलों को सीधे खोलकर प्रयोग नहीं किया जा सकता, क्योंकि बैकअप बनाते समय उसका फॉरमेट बदल जाता है। उसे जब दोबारा हार्डडिस्क में Restore कर लेते हैं, तभी प्रयोग किया जा सकता
बैकअप बनाने की विधि इस प्रकार है
1. Window XP के डेस्कटॉप पर Start बटन पर क्लिक करके माउस पॉइंटर को Programs पर ले जाएँ।
2. Accesories पर पॉइंटर ले जाकर System Tools पर जाएँ।
3. Backup पर क्लिक करते हैं तो निम्न डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर आ जाता है
4. उपर्युक्त डायलॉग बॉक्स में Backup विकल्प पर क्लिक करने पर निम्न डायलॉग बॉक्स दिखाई देगा
5. यदि आप कुछ फाइलें चुनकर उनका बैकअप बनाना चाहते हैं तो ठंबानच विकल्प चुनते हैं और यदि पहले बनाए गए बैकअप में केवल वे फाइलें जोड़ना चाहते हैं, जो पिछले बैकअप के बाद बनाई या बदली गई हैं तो Restore विकल्प चुनते हैं।
6. अब आप जिन फाइलों का Backup बनाना चाहते हैं, उन फाइलों के आगेवाले बॉक्स में क्लिक करके  चिह्न प्रदर्शित करें।
7. Backup Media or File Name में उस डिस्क को चुनें, जिसमें आप बैकअप बनाकर रखना चाहते हैं।
8. अब Start Backup पर क्लिक करके आप वह सेटिंग दे सकते हैं कि Backup किस तरह का होना चाहिए।
9. Start Backup बटन पर क्लिक करें तो फाइल का Backup बनने लगता है।
10. इस प्रकार फाइल का Backup बन जाता है और Backup Progres का डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर आ जाता है।

री-स्टोर कैसे करें?
यदि आपने फाइलों का बैकअप बनाकर रखा है तो उसे तब तक प्रयोग नहीं कर सकेंगे, जब तक कि उन्हें री-स्टोर न कर लिया जाए। बैकअप को पुनः हार्डडिस्क में री-स्टोर करने की विधि है
1. Window XP के डेस्कटॉप में Start बटन पर क्लिक करके माउस पॉइंटर को Programs पर ले जायें।
2. अब Accesories पर जाकर माउस पॉइंटर को System Tools पर रखें।
3. Backup पर क्लिक करने से निम्न डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर आ जाता है।
4. अब Restore पर क्लिक करें।
5. री-स्टोर करनेवाली फाइलों को सिलेक्ट करते हैं और उन्हें कहाँ रीस्टोर करना है, यह भी Specify करते हैं।
6. Start Restore बटन पर क्लिक करें। अब Confirm Restore का डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर दिखाई देगा, जिसमें फाइल को री-स्टोर करने की Confirmation माँगी जाती है।
7. OK बटन पर क्लिक करें, जिससे Enter Backup File Name की लिस्ट स्क्रीन पर दिखाई देती है। Restore from backup file में उस सोर्स को सिलेक्ट करते हैं, जहाँ से फाइल को Restore करना है।
8. OK बटन पर क्लिक करने से फाइल री-स्टोर हो जाती है और निम्न डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर दिखाई देता है।