लुडविग गुट्टमैन ludwig guttmann in hindi

By   July 2, 2021

ludwig guttmann in hindi लुडविग गुट्टमैन कौन है गूगल डूडल स्पेशल जन्मदिन विशेष पोस्ट |

कौन है लुडविग गटमैन : ये एक न्यूरोलॉजिस्ट (स्नायु-विशेषज्ञ) थे अर्थात ये एक डॉक्टर थे जिनका जन्म जर्मनी में हुआ था लेकिन बाद में ये ब्रिटेन में रहने लगे और वहां न्यूरोलॉजिस्ट (डॉक्टर) के रूप में काम किया |

इन्होने अपने प्रयासों से पैरालंपिक खेलों की शुरुआत की अर्थात पैरालंपिक खेलों के शुरुआत का श्रेय लुडविग गुट्टमैन को दिया जाता है |

पैरालंपिक खेल क्या होते हैं ?

ये अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर होने वाले खेल होते है लेकिन इनमें विशेष बात यह होती है कि इसमें भाग लेने वाले खिलाड़ी शारीरिक या मानसिक रूप से विकलांग खिलाड़ी ही भाग लेते है , आपने कई जगह देखा होगा कि कुछ खिलाड़ी व्हील चेयर पर बैठे होते है और वे आपस में कोई विशेष खेल खेलते है , दरअसल वह पैरालंपिक खेल है |

फोटो में आप देख सकते है कि दो खिलाड़ी जो शारीरिक रूप से विकलांग है लेकिन वे कोई गेम खेल रहे है , दरअसल यह पैरालंपिक खेल का ही एक फोटो है |

इसी प्रकार दूसरी फोटो में कुछ विकलांग खिलाड़ी व्हील चेयर पर बैठे बैठे ही दौड़ लगा रहे है , यह भी एक अन्तर्राष्ट्रीय स्तर का प्रतियोगी खेल है और यह फोटो भी पैरालंपिक खेल का ही है |

इस खेल में जिन खिलाडियों को किसी विशेष खेल में जब शामिल किया जाता है उनकी श्रेणी निश्चित की जाती है अर्थात उनके शारीरिक विकलांग की श्रेणी के अन्दर ही उन्हें खेलने का मौका दिया जाता है | जैसे सामान्य कुश्ती में 40 किलों के पहलवान को लगभग 40 किलों के पहलवान से ही लडवाया जाता है ताकि मुकाबला बराबर का हो इसी प्रकार पैरालंपिक खेल में भी शारीरिक विकलांगता की श्रेणी निर्धारित की जाती है , उदाहरण के लिए नीचे फोटो में कुछ विकलांग खिलाड़ी दौड़ रहे है लेकिन ये सभी खिलाड़ी एक पैर से विकलांग है और दूसरा पैर इनका सही है |

लुडविग गुट्टमैन का निजी जीवन परिचय

इनका जन्म 3 जुलाई 1899 को आज ही के दिन हुआ था इसलिए गूगल इन्हें श्रृद्धांजलि देने स्वरूप इनका डूडल अपने सर्च इंजन पर लगाया है | इनका निधन 18 मार्च 1980 को हुआ था | इनका जन्म तो जर्मनी देश में हुआ था लेकिन बाद में ये इंग्लैंड रहने लगे और ब्रिटिश नागरिकता ले ली | ये एक प्रसिद्ध neurologist (न्यूरोलोजिस्ट) थे |

लुडविग गुट्टमैन ने पैरालंपिक गेम्स की स्थापना या शुरुआत इंग्लैंड में की और इनके इसी महान कार्य के लिए मुख्यतया जाना जाता है और इनके इस साहसिक कदम को हमेशा सराहा जाता है |

पैरालंपिक गेम्स के माध्यम से शारीरिक रूप से विकलांग खिलाड़ी भी अपने हुनर को दुनिया के सामने दिखा पाते है जैसे एक सामान्य खिलाड़ी अपने हुनर को दिखाता है | लुडविग गुट्टमैन को विकलांग लोगों के लिए संगठित शारीरिक गतिविधियों (खेलों) के संस्थापक पिता में से एक माना जाता है अर्थात उन्हें उन संस्थापकों में से एक माना जाता है जिन्होंने सबसे पहले विकलांग लोगों के लिए गतिविधियाँ करवाने के लिए संगठन बनाया या उन्हें संगठित किया |

आज उन्हें गूगल डूडल पर क्यों दिखाया जा रहा है ?

लुडविग गुट्टमैन का जन्म आज ही के दिन अर्थात 3 जुलाई को हुआ था (3 जुलाई 1899) , चूँकि उन्होंने पैरालंपिक गेम्स की स्थापना कर एक अभूतपूर्व कार्य किया था जिसके लिए उन्हें हमेशा याद किया जायेगा , उनके इस अमूल्य योगदान को बताने के लिए आज गूगल ने उनके जन्मदिन के अवसर पर श्रृद्धांजली अर्पित की है और उनके इस योगदान के लिए धन्यवाद कहा है | ताकि पूरा विश्व उनके इस अभूतपूर्व कार्य को जाने और उन्हें इसके लिए धन्यवाद दे |