पाण्डिनेन किलकनक्कु समूह (Padinen Kilukanakku Group) की अहम (Aham) एवं पुरम (Puram) कविताएँ संगम रचनाओं का अनवर्तन हैं।

By   October 3, 2021

1. गुप्त काल में उत्तर भारतीय व्यापार निम्नलिखित में से किस एक पत्तन से संचालित होता था? [1999,
(अ) ताम्रलिप्ति (स) भडौच
(स) कल्याण (द) कैम्बे
2. कथन (अ)ः पाण्डिनेन किलकनक्कु समूह (Padinen Kilukanakku Group) की अहम (Aham) एवं पुरम (Puram) कविताएँ संगम रचनाओं का अनवर्तन हैं।
कारण (R)ः उन्हें प्रमुख संगम (Sangam) रचनाओं के विपरीत उत्तर संगम रचनाओं में सम्मिलित किया गया। ख्2000,
नीचे दिए गए कूट से सही उत्तर का चयन कीजिए
(अ) A और R दोनों सही है, तथा R,A की सही व्याख्या है
(स)  A और R दोनों सही है, किन्तु R,A की सही व्याख्या नहीं है (स)  A सही है, किन्तु R गलत है
(द) A गलत है, किन्तु R सही है

उत्तर : 2. (अ) संगम कालीन शिक्षाप्रद कविताओं को किलुकनक्कु कहा जाता है। ये 18 भागों में विभाजित है जिसमें तिरकुरूल व नाडियार हैं। अहम व पुरम कवितायें (किलुकनक्कु) उत्तर संगम काल में लिखी गईं। इसलिये (अ) की सही व्याख्या (त्) है। 
3. कथन (अ)ः जैन धर्म के अहिंसा पर बल ने कृषकों को जैन धर्म अपनाने से रोका।
कारण (R)ः कृषि में कोटों एवं पीड़कों की हत्या होना शामिल है। नीचे दिए गए कूट से सही उत्तर का चयन कीजिए- [2000,
(अ) A तथा R दोनों सही है, तथा R.A की सही व्याख्या है
(स) A तथा R दोनों सही है, किन्तु R,A की सही व्याख्या नहीं है (l) A सही है, किन्तु R गलत है
(द) A गलत है, किन्तु R सही है
4. कथन (अ)ः प्राचीन भारत में सामन्ती व्यवस्था (Feudal system) का अभ्युदय सैनिक अभियानों में देखा जा सकता है।
कारण (R)ः गुप्तकाल में सामन्ती व्यवस्था का पर्याप्त विस्तार हुआ।
[2000,
उपरोक्त के संदर्भ में निम्नलिखित में से कौन एक सही है?
(अ) A और R दोनों सही है, और A की सही व्याख्या R है
(स) A और R दोनों सही है, किन्तु A की सही व्याख्या R नहीं है (स) A सही है, किन्तु R गलत है
(द) A गलत है, किन्तु R सही है
5. कथन (अ)ः अशोक ने कलिंग को मौर्य साम्राज्य में जोड़ लिया। कारण (R)ः कलिंग दक्षिण भारत से आने वाले स्थलीय एवं समुद्री मार्गों को नियन्त्रित करता था। ख्2000,
(अ) A और R दोनों ही सही है, तथा R,A की सही व्याख्या
करता है
(स) A और R दोनों सही है, किन्तु R,A की सही व्याख्या नहीं
करता है
(स) A सही है, जबकि R गलत है
(द) A गलत है, जबकि R सही है
6. भारत में प्रथम बार सैनिक शासन (Military Governorship) व्यवहार में लाया गयाः [2000,
(अ) ग्रीकों द्वारा (स) शकों द्वारा
(स) पार्थियनों द्वारा (द) मुगलों द्वारा
7. सिकन्दर के हमले के समय उत्तर भारत पर निम्नलिखित राजवंशों में से किस एक का शासन था? ख्2000,
(अ) नन्द (स) मौर्य
(स) शुंग (द) कण्व
8. होयसल स्मारक (भ्वलेंसं उवदनउमदजे) पाये जाते हैंः ख्2001,
(अ) हम्पी और हेलिबिड में
(स) हेलिबिड और बेलूर में
(स) मैसूर और बैंगलूर में
(द) शृंगेरी और धारवाड़ में
9. निम्नलिखित युग्मों में से कौन-सा एक सही समेलित है? ख्2001,
(अ) हड़प्पा सभ्यता – चित्रित धूसर मृद्भाण्ड
(स) कुषाण – गंधार कला शैली
(स) मुगल – अजंता चित्रकारी
(द) मराठा – पहाड़ी चित्र शैली
10. कथन (अ)ः हर्षवर्धन ने प्रयाग संसद आयोजित की थी।
कारण (R)ः वह बौद्ध धर्म की केवल महायान शाखा को लोकप्रिय बनाना चाहता था। ख्2001,
(अ) A और R दोनों सही है तथा R,A की सही व्याख्या है
(स) A और R दोनों सही है, परन्तु R,A की सही व्याख्या नहीं है (स) A सही है, किन्तु R गलत है
(द) A गलत है, किन्तु R सही है
11. चोल राजाओं में किस एक ने सीलोन (Ceylon) पर विजय प्राप्त की ख्2001,
(अ) आदित्य प्रथम (स) राजराजा प्रथम
(स) राजेन्द्र (द) विजयालय
12. कश्मीर में कनिष्क के शासनकाल में जो बौद्ध संगीति आयोजित हुई थी उसकी अध्यक्षता निम्नलिखित में से किसने की थी? ख्2001,
(अ) पार्श्व (स) नागार्जुन
(स) शूद्रक (द) वसुमित्र
13. निम्नलिखित पशुओं में से किस एक का हड़प्पा संस्कृति में मिली मुहरों और टेराकोटा कलाकृतियों में निरूपण (Representation) नहीं हुआ था? [2001,
(अ) गाय (स) हाथी
(स) गैंडा (द) बाघ
14. सूची-I (प्राचीन स्थल) को सूची II (पुरात्वीय खोज) के साथ सुमेलित कीजिए और नीचे दिए कूट का प्रयोग कर सही उत्तर चुनिएः
[2002,
सूची-I सूची-II
(प्राचीन स्थल) (पुरात्वीय खोज)
अ. लोथल 1. जुता हुआ खेत
ब. कालीबंगन 2. गोदी-बाड़ा
स. धौलावीरा 3. पक्की मिट्टी की बनी हुई
हल की प्रतिकृति
द. बनवाली 4. हड़प्पन लिपि के बड़े आकार
के दस चिह्नों वाला एक
शिलालेख
कूटः
(अ) अ-1 ,  ब-2 ,  स-3 ,  द-4
(स) अ-2 ,  ब-1 ,  स-4 ,  द-3
(स) अ-1 ,  ब-2 ,  स-4 ,  द-3
(द) अ-2 ,  ब-1 ,  स-3 ,  द-4
15. निम्नलिखित में से कौन सा कथन सही नहीं है? [2002,
(अ) श्रवणबेलगोला स्थित गोमतेश्वर की प्रतिमा जैनियों के अन्तिम तीर्थकर को दर्शाती है
(स) भारत का सबसे बड़ा बौद्ध मठ अरूणाचल प्रदेश में है
(स) खजुराहो के मन्दिर चन्देल राजाओं द्वारा बनवाए गए
(द) होयशलेश्वर मन्दिर शिव को समर्पित है
16. प्राचीन भारत के बौद्ध मठों में, पवरन नामक समारोह आयोजित किया जाता था जोः ख्2002,
(अ) संघपरिनायक और धर्म तथा विनय विषयों पर एक-एक वक्ता को चुनने का अवसर होता था।
(स) वर्षा ऋतु के दौरान मठों में प्रवास के समय भिक्षुओं द्वारा किये गए अपराधों को स्वीकारोक्ति का अवसर होता था।
(स) किसी नए व्यक्ति को बौद्ध संघ में प्रवेश देने का समारोह होता था, जिसमें उसका सिर मुंडवा दिया जाता था और पीले वस्त्र दिये जाते थे।
(द) आषाढ़ की पूर्णिमा के अगले दिन बौद्ध भिक्षुओं के एकत्र होने का अवसर होता था जब वे वर्षा ऋतु के आगामी चार महीनों के लिए निश्चित आवास चुनते थे।
17. विशाखदत्त के प्राचीन भारतीय नाटक मुद्राराक्षस की विषय वस्तु हैः
[2002,
(अ) प्राचीन हिन्दू अनुश्रुति के देवताओं और राक्षसों के बीच संघर्ष के बारे में
(स) एक आर्य राजकुमार और एक कबीली महिला की प्रेम कथा केबारे में
(स) दो आर्य कबीलों के बीच सत्ता के संघर्ष की कथा के बारे में
(द) चन्द्रगुप्त मौर्य के समय में राजदरबार की दुरभिसन्धियों के बारे में
18. नर्मदा नदी पर सम्राट हर्ष के दक्षिणावर्ती आगमन को रोकाः
[2002,
(अ) पुलकेशिन प्रथम ने (स) पुलकेशिन द्वितीय ने
(स) विक्रमादित्य प्रथम ने (द) विक्रमादित्य द्वितीय ने
19. निम्न कथनों पर विचार कीजिएः
1. चोलों ने पाण्ड्य तथा चेर शासकों को पराजित कर प्रायद्वीपीय
भारत पर प्रारम्भिक मध्यकालीन समय में अपना प्रभुत्व स्थापित किया।
2. चोलों ने दक्षिण-पूर्वी एशिया के शैलेन्द्र साम्राज्य के विरुद्ध सैन्य चढ़ाई की तथा कुछ क्षेत्रों को जीता।
इन कथनों में कौन-सा/से सही है/हैं? [2003,
(अ) केवल 1 (स) केवल 2
(स) दोनों 1 और 2 (द) उपरोक्त में से कोई नहीं
20. शूद्रक द्वारा लिखी हुई प्राचीन भारतीय पुस्तक ‘मृच्छकटिकम्‘ का विषय थाः ख्2003,
(अ) एक धनी व्यापारी और एक गणिका की पुत्री की प्रेम-गाथा
(स) चन्द्रगुप्त द्वितीय की पश्चिम भारत के शक क्षत्रपों पर विजय
(स) समुद्रगुप्त के सैन्य अभियान तथा शौर्यपूर्ण कार्य
(द) गुप्त राजवंश के एक राजा तथा कामरूप की राजकुमारी की प्रेम-गाथा
21. निम्न कथनों पर विचार कीजिएः [2003,
1. वर्धमान महावीर की माता लिच्छवि के मुखिया चेतक की पुत्री थी।
2. गौतम बुद्ध की माता कोशल राजवंश की राजकुमारी थी।
3. 23 वें तीर्थकर पार्श्वनाथ बनारस से थे।
इन कथनों में कौन-सा सही है/हैं?
(अ) केवल 1 (स) केवल 2
(स) 2 और 3 (द) 1,2 और 3
22. निम्न कथनों पर विचार कीजिएः [2003,
1. अन्तिम मौर्य शासक बृहद्रथ की हत्या उसके प्रधान सेनापति पुष्यमित्र शुंग ने की थी।
2. अन्तिम शुंग राजा देवभूति की हत्या उसके ब्राह्मण मन्त्री वासुदेव कण्व ने की और उसके राजसिंहासन को हथिया लिया।
3. आन्ध्र ने कण्व राजवंश के अन्तिम शासक को पदचित किया था। इन कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?
(अ) 1 और 2 (स) केवल 2
(स) केवल 3 (द) 1, 2 और 3
23. निम्नलिखित कथनों पर विचार कीजिएः ख्2004,
1. चीनी तीर्थयात्री फाह्यान ने कनिष्क द्वारा आयोजित की गई चतुर्थमहान् बौद्ध परिषद् (Fourth Buddhist Council) में भाग लिया।
2. चीनी तीर्थयात्री ह्वेनसांग, हर्ष से मिला और उसे बौद्ध धर्म का प्रतिरोधी (Antagonist) पाया।
उपरोक्त कथनों में से कौन-सा/से सही है/हैं?
(अ) केवल 1 (स) केवल 2
(स) 1 और 2 दोनों (द) उपरोक्त में से कोई नहीं
24. प्राचीन जैन धर्म के सम्बन्ध में निम्नलिखित कथनों में से कौन-सा एक सही है? [2004,
(अ) स्थलबाहु के नेतृत्व में दक्षिण भारत में जैन धर्म का प्रचार हुआ। (स) पाटलिपुत्र में हुई परिषद् के पश्चात् जो जैन धर्म के लोग भद्रबाहु के नेतृत्व में रहे, वे श्वेताम्बर कहलाए
(स) प्रथम शतक ई. पू. में जैन धर्म को कलिंग के राजा खारवेल का समर्थन मिला
(द) बौद्धों के विपरीत, जैन धर्म की प्रारम्भिक अवस्था में, जैन धर्म के लोग चित्रों का पूजन करते थे।
25. निम्नलिखित चार वेदों में से किस एक में जादुई माया और वशीकरण (Magical charm and spells) का वर्णन है ? [2004,
(अ) ऋग्वेद (स) यजुर्वेद
(स) अथर्ववेद (द) सामवेद
26. निम्नलिखित में से कौन-सा एक अन्य तीनों के समसामयिक (Contemporary) नहीं था? [2005,
(अ) बिम्बिसार (स) गौतम बुद्ध
(स) मिलिन्द (द) प्रसेनजीत

उत्तर और हल

1. (अ) ताम्रलिप्ति या ताम्रलिप्त बंगाल की खाड़ी में स्थित एक प्राचीन काल का शहर था जिसे वर्तमान भारत के तामलुक से समीकृत किया जाता है। ताम्रलिप्ति प्रारम्भिक ऐतिहासिक भारत में व्यापार व वाणिज्य का एक प्रमुख नगरीय केन्द्र रहा है। यहाँ से व्यापार सिल्क रोड से उत्तरापथ होते हुए मुख्य व्यापारिक मार्ग से मध्य-पूर्व और यूरोप से होता था और समुद्री रास्ते से बाली, जावा और सुदूर पूर्व से व्यापार होता था।
2. (अ) संगम कालीन शिक्षाप्रद कविताओं को किलुकनक्कु कहा जाता है। ये 18 भागों में विभाजित है जिसमें तिरकुरूल व नाडियार हैं। अहम व पुरम कवितायें (किलुकनक्कु) उत्तर संगम काल में लिखी गईं। इसलिये (अ) की सही व्याख्या (त्) है।
3. (अ) दोनों कथन सही हैं तथा कारण (त्) कथन (अ) की सही व्याख्या करता है क्योंकि अत्यधिक अहिंसा ने कृषकों को जैन धर्म अपनाने से रोका।
4. (स) प्राचीन भारत में राजाओं ने (विशेष रूप से मौर्य काल के बाद) भूमि का स्वामित्व ब्राह्मणों, विद्धानों, धार्मिक संस्थानों को देना शुरू कर दिया था। ऐसा सैन्य अभियान के दौरान अधिक होता था। गुप्तकाल में सामंतवाद का विस्तार हुआ तथा सामंतों को पर्याप्त अधिकार था। उन्हें व्यापारियों और शिल्पियों के संघ एवं अन्य सामुदायिक संस्थाओं के साथ सत्ता में भागीदार बनाया जाता था।
5. (अ) प्राचानी भारत में कलिंग राज्य का अत्यंत सामरिक महत्व था एवं यह दक्षिण भारत से आने वाले स्थलीय एवं समुद्री मार्गों को नियंत्रित करता था, इसी कारण अशोक ने 261 ई. पू. में कलिंग पर आक्रमण कर इसे अपने राज्य में मिला लिया।
6. (अ) भारत में प्रथम बार सैनिक शासन ग्रीकों (यूनानियों) द्वारा व्यवहार में लाया गया था। सिकन्दर ने अपने द्वारा जीते हुए प्रदेशों को अपने सैनिक अधिकारियों के अन्तर्गत रखा था।
7. (अ) सिकन्दर (एलेक्जेन्डर) ने 326 ई. पू. में भारत पर आक्रमण किया। उस समय भारत पर नंदों का शासन था। तिथिक्रम की दृ ष्टि से इन चार राजवंशों का क्रम है- नंद, मौर्य, शुंग व कण्वा
8. (स) प्रारम्भ में होयसलों की राजधानी बेलूर थी परन्तु बाद में हेलीविड हो गई है।
9. (स) निम्नलिखित का सही सुमेलन इस प्रकार है –
चित्रित धूसर मृद्भाण्ड – उत्तर वैदिक काल
गंधार कला शैली – कुषाण काल
अजंता चित्रकारी – गुप्त काल
पहाडी चित्र शैली – मुगल काल
10. (स) हर्षवर्धन ने प्रयाग और कन्नौज में समिति बुलाई। प्रयाग समिति का आयोजन हर्ष ने स्वयं की प्रसिद्धि के लिये किया।
11. (स) 1017 में राजेन्द्र ने सम्पूर्ण सीलोन (श्रीलंका) जीता। इससे पहले
राजराज-प्रथम ने इसका आधा भाग जीता था।
12. (द) कश्मीर के कुण्डलवन में कनिष्क के शासन काल में चतुर्थ बौद्ध संगीति का आयोजन हुआ। इस बौद्ध संगीति की अध्यक्षता वसुमित्र ने की थी। अश्वघोष इसके उपाध्यक्ष थे।
13. (अ) मुहरों पर गाय, ऊँट, घोडा व शेर को प्रदर्शित नहीं किया गया था। एक शृंगी बैल अधिकांशतः मुहरों पर दर्शाया गया।
14. (स) विभिन्न हड़प्पाकालीन स्थल एवं उनसे जुड़े पुरातात्विक खोज का सही सुमेलन इस प्रकार है –
स्थल खोज
अ. लोथल – गोदीबाडा
ब. कालीबंगा – जोता हुआ खेत
स. धौलावीरा – हड़प्पन लिपि के बड़े आकार के
दस चिहनों वाला शिलालेख
द. बनवाली – पकी मिट्टी की बनी हुई हल की
प्रतिकृति
15. (अ) जैनों के अन्तिम तीर्थकर (24वें) महावीर स्वामी थे जबकि श्रवण बेलगोला स्थित गोमतेश्वर की प्रतिमा जैनियों के प्रथम तीर्थकर ऋषभदेव को दर्शाती है।
16. (स) पवरन बौद्धों का समारोह था जो ग्यारहवें चन्द्रमास की पूर्णिमा को मनाया जाता था। बौद्ध भिक्षु वर्षा ऋतु के दौरान मठों में प्रवास करते थे तथा अपने अपराधों की स्वीकारोक्ति करते थे।
17. (द) विशाखदत्त द्वारा संस्कृत भाषा में रचित नाटक मुद्राराक्षस उत्तर भारत में चन्द्रगुप्त मौर्य के उत्थान व शक्ति के विषय में बताता है।
18. (स) हर्षवर्धन के दक्षिण की ओर प्रस्थान को नर्मदा नदी पर चालुक्य शासक पुलकेशिन द्वितीय ने रोका।
19. (स) चोल शासक राजराज प्रथम ने पाण्ड्य तथा चेर शासकों को पराजित कर प्रायद्वीपीय भारत पर प्रारंभिक मध्यकालीन समय में अपना प्रभुत्व स्थापित किया। इसके अतिरिक्त इसने श्रीलंका के उत्तरी भाग को जीतकर चोल साम्राज्य का एक प्रान्त बना दिया तथा मालदीव पर भी आधिपत्य स्थापित कर लिया। इसी प्रकार राजेन्द्र चोल ने न केवल सम्पूर्ण श्रीलंका को जीता, बल्कि दक्षिण-पूर्व एशिया के शैलेन्द्र साम्राज्य के विरुद्ध सैन्य अभियान कर कुछ क्षेत्रों पर आधिपत्य स्थापित कर लिया।
20. (अ) मृच्छकटिकम् (मिट्टी की गाड़ी) दूसरी सदी ई. पू. में संस्कृत में शूद्रक द्वारा लिखा गया एक नाटक है। इसमें युवा व्यापारी चारूदत्त तथा उसकी प्रेमिका वसन्तसेना की कहानी है, जो एक
गणिका की पुत्री थी।
21. (स) जैन धर्म के संस्थापक महावीर स्वामी के बचपन का नाम वर्धमान था इनका-
जन्म – वैशाली के कुण्डग्राम में 540 ई. पू.
पिता – सिद्धार्थ
माता – त्रिशला (लिच्छवी गणराज्य के प्रमुख चेटक की बहन) बौद्ध धर्म के प्रणेता गौतम बुद्ध के बचपन का नाम सिद्धार्थ था इनका – जन्म – नेपाल की तराई में स्थित लुम्बिनी वन में 563
पिता – शुद्धोधन (शाक्य गणराज्य के प्रमुख)
माता – महामाया (कोशल राज्य की राजकुमारी)
जैन धर्म के 23वें तीर्थंकर पार्श्वनाथ काशी (बनारस) नरेश अश्वसेन के पुत्र थे, अतः इनका सम्बन्ध बनारस से था।
22. (द) सभी कथन सही हैं। अंतिम मौर्य शासक वृहद्रथ 185 ई. पू. में सेनापति पुष्यमित्र शुंग द्वारा मारा गया। शुंग वंश के अंतिम शासक देवभूति की हत्या उसके अमात्य वासुदेव ने 73 ई. पू. में की। तत्पश्चात् उसने कण्व वंश की नींव डाली। कण्व वंश का अंतिम शासक सुशर्मा था। इसकी हत्या 60 ई. पू. में सिमुक ने की जो आन्ध्र-सातवाहन वंश का संस्थापक था।
23. (द) दोनों कथन गलत हैं। चतुर्थ बौद्ध संगीति कनिष्क के समय कश्मीर में आयोजित हुई, जिसकी अध्यक्षता वसुमित्र ने की। चीनी यात्री फाह्यान (399 ई. से 414 ई.) चन्द्रगुप्त द्वितीय के समय भारत आया था। चीनी यात्री हवेनसांग 613 ई. से 630 ई. के मध्य हर्ष के समय भारत आया। उसने हर्ष को बौद्ध धर्म का प्रतिरोधी नहीं बताया।
24. (स) दक्षिण भारत में जैन धर्म का प्रचार भद्रबाहु के द्वारा हुआ। पाटलिपुत्र में (आधुनिक पटना) आयोजित प्रथम बौद्ध संगीति के पश्चात् जो लोग भद्रबाहु के नेतृत्व में थे, वे दिगम्बर कहलाये तथा स्थूलबाहु के नेतृत्व में श्वेताम्बर। प्रारम्भ में जैन धर्म में मूर्तिपूजा का प्रचलन नहीं था। विभाजन के पश्चात् श्वेताम्बर अनुयायियों ने महावीर तथा अन्य तीर्थकरों की मूर्तियों की पूजा प्रारम्भ की। अतः विकल्प (स) सही है। कलिंग राजा खारवेल ने
जैन धर्म को समर्थन दिया।
25. (स) अथर्ववेद तन्त्र-मंत्र, जादू आदि से सम्बन्धित ग्रंथ है। इसमें जादू-टोना व वशीकरण से सम्बन्धित मंत्र हैं, जिनका प्रयोग बुरी शक्तियों व बीमारियों को दूर करने के लिये किया जाता है।
26. (स) बिम्बिसार हर्यक वंश का शासक था जो 544 ईसा पूर्व में मगध के सिंहासन पर आसीन हुआ। वह बुद्ध का समकालीन था। अपनी स्थिति को मजबूत करने के लिये बिम्बिसार ने वैवाहिक सम्बन्ध बनाये। इस दिशा में इसने कोशल नरेश की पुत्री से विवाह किया जो प्रसेनजित की बहन थी। ये भी बुद्ध के समकालीन थे। मिलिन्द का काल 2सदी ई० पू० था।