टाइरस वोंग या टायरस वोंग

By  

टायरस वोंग या टाइरस वोंग का जन्म 25 अक्टूबर 1910 को चाइना में हुआ था और इनकी मृत्यु 106 की उम्र में 30 दिसम्बर 2016 में हुआ था। आज इनका 108 वाँ जन्मदिन है और इस दिन के अवसर पर गूगल ने इन्हें अपने डूडल पर जगह देकर इनके कार्य और जीवनी के बारे में दुनिया को बताया है कि अपनी 106 साल के जीवन में ऐसे क्या काम किये जो हमारे लिए प्रेरणादायक है और हमें इनसे प्रेरणा लेकर अपने कार्य के प्रति रूचिकर होना चाहिए और अपने सपनो को पूरा करना चाहिए जिसमे आप पूर्ण है और जिसे पूरे मन के साथ करने में सक्षम है।

आइयें हम आगे इनके जीवन के बारे में पढ़ते है कि इन्होने क्या किया था जिसके कारण टाइरस वोंग इतने विख्यात हो गए और आज गूगल ने भी अपने डूडल के माध्यम से उनके 108 वें जन्मदिन पर याद किया है।

टाइरस वोंग की जीवनी

ये एक कलाकार थे जिनका जन्म चाइना में हुआ था और जीवन अमेरिका में बिता , इनका जन्म 25 अक्टूबर 1910 को ताइशन, गुआंग्डोंग, चीन में हुआ था और इनका बचपन का नाम वोंग जनरल येओ था। वे इतने अच्छे कलाकार थे की वे पेटिंग , एनीमेशन , सुलेखक , भित्तिचित्र, चीनी मिट्टी के बरतन, लिथोग्राफर आदि खूबियों के साथ साथ वे एक अच्छे डिजाईन के पतंग भी बना लेते थे तथा वे सेट डिजाईन और स्टोरीबोर्ड के भी काफी अच्छे कलाकार थे। उनकी इतनी खूबियों से आप अनुमान लगा सकते है कि वे 20 वीं सदी के सबसे बेहतरीन कलाकारों में से एक थे। वे फिल्म बनाने वाले चित्रकार के रूप में वे डिज्नी और वार्नर ब्रदर्स के साथ भी काम करते थे , उन्होंने ग्रीटिंग कार्ड डिजाईन करने के लिए भी जानी आमी हस्ती हॉलमार्क कार्ड के साथ काम किया था। डिजनी की 1942 में आई फिल्म बाम्बी में वे मुख्य चित्रकार थे और इस फिल्म की उनकी कलाकारी ने उनको खूब नाम दिया , इस फिल्म में उनकी कलाकारी देखने लायक और प्रसंशा के पात्र था। इस फिल्म के अलावा भी इन्होने कई अन्य फिल्मों में भी डिजाईन या चित्रकार के रूप में कार्य किया।
1960 के दशक के अंत में टायरस वोंग फिल्म लाइन से रिटायर्ड हो गए अर्थात उन्होंने फिल्म जगत से सन्यास ले लिया था। लेकिन इसका मतलब ये न था कि उन्होंने अपने कलाकारी को खत्म कर दिया था , फिल्म जगत छोड़ने के बाद उन्होंने अपनी डिजाईन का कार्य निरंतर रखा और अपना अधिक समय वे पतंग डिजाईन करने में व्यतीत करने लगे।
पतंग डिजाईन के साथ साथ वे पेटिंग बनाने इत्यादि कार्य में लगातार कार्यरत रहे।
2015 में  पेमला टॉम ने टायरस वोंग के जीवन पर आधारित एक फिल्म बनायीं जिसके अन्दर उनकी जीवनी को दिखाया गया था।
टाइरस वोंग का निधन 106 साल की उम्र में 30 दिसंबर, 2016 में सनलैंड-तुजुंगा, कैलिफ़ोर्नियअमेरिका में हुआ था।

टाइरस वोंग का बचपन और सफ़र

इनका जन्म चीन के ताइशन, गुआंग्डोंग जगह पर 25 अक्टूबर, 1910 में हुआ था , जब वोंग मात्र 9 साल के थे तब उनके पिता उन्हें अपनी अच्छी जीवनी के लिए उन्हें अमेरिका ले आये और अमेरिका में रहने लगे।  इसके बाद वे कभी चीन नही गए जहाँ उनकी माता और बहन रहती थी।
प्रारंभ में चीनी बहिष्करण अधिनियम के कारण उनको उनकी पहचान के कारण कुछ परेशानी हुई लेकिन बाद में वे लॉस एंजिलस में रहने लगे।
जब वे स्कूल में थे तभी उनके अन्दर का कलाकार सबको अपनी तरफ आकर्षित करने लगा और उनको ओटिस आर्ट इंस्टीट्यूट में छात्रवृति मिल गयी और वे अपने कार्य को अधिक समय देने लगे , उनके पिता ने भी उनका खूब साथ दिया और 1930 को वे स्नातक हो गए।