ओल्गा लेडीझेनस्काया Olga Ladyzhenskaya

By  

Olga Ladyzhenskaya (ओल्गा लेडीझेनस्काया) :- आज गूगल ने इनके 97 वें जन्मदिन पर डूडल पर रखा है और इनके बारे में पूरी दुनिया को बताया है कि अक्सर गणित विषय से महिलाओं को दूर रखने वाला पुरुष प्रधान समाज , याद रखे कि आज से 97 साल पूर्व ही एक महिला ओल्गा लेडीझेनस्काया ने गणित के कई टॉपिक जैसे अवकल समीकरण , द्रव गतिकी आदि की समस्या हल के लिए काम किया था |

उनके इस प्रयत्न के कारण ही आज आंशिक अवकल समीकरण की सहायता से गणित की कई जटिल समस्या को हल करने में कामयाबी मिल पायी है |

ओल्गा लेडीझेनस्काया का जन्म आज के दिन अर्थात 7 मार्च 1922 को हुआ था , आज इनका 97 वां जन्मदिन है और इसी उपलक्ष में गूगल ने अपने डूडल पर उनको स्थान दिया है |

इनके पिता एक गणित के अध्यापक थे और उनकी वजह से ही ये एक गणित वैज्ञानिक के रूप में उभरकर आई , क्यूंकि जब वे सिर्फ आठ साल की थी तभी से उनके पिता उनको गणित विषय के बारे में ज्ञान देना शुरू कर चुके थे , उस आठ साल की उम्र में ही उनके पिता ने उनको ज्यामिति के बारे में कुछ ज्ञान दे दिया था और चूँकि ये बचपन से ही होशियार थी इसलिए वे गणित विषय को जल्दी पकड़ने लगी और धीरे धीरे उनकी रूचि गणित विषय के लिए बनने लगी और आज उसी रूचि के कारण उन्होंने भौतिक , गणित आदि की दैनिक समस्या हल करने के लिए गणित की आंशिक अवकल समीकरण का निजात किया और पुष्टि करके बताया कि इन समीकरणों का इस्तेमाल कैसे किया जाता है और कब किया जाता है |