जब बर्फ पिघलती है तो उसका आयतन | जब बर्फ पिघलती है तो उसका आयतन घटता है या बढ़ता है

By  

when ice melts its volume increases or decreases in hindi जब बर्फ पिघलती है तो उसका आयतन | जब बर्फ पिघलती है तो उसका आयतन घटता है या बढ़ता है ?

871. जब बर्फ पिघलती है तब-
(अ) आयतन (Volume) बढ़ता है
(ब) आयतन घटता है
(स) द्रव्यमान (Mass) बढ़ता है
(द) द्रव्यमान घटता है
Ans- (ब) जब बर्फ पिघलता है तब उसका आयतन घटता है।
872. निम्नलिखित में से कौनसी हरित गृह गैस नहीं है ?
(अ) कार्बन डाईऑक्साइड (ब) मीथेन
(स) नाइट्रस ऑक्साइड (द) नाइट्रोजन
Ans- (द) नाइट्रोजन हरित गृह गैस नहीं है।
873. निम्नलिखित पदार्थों में से कौनसे ओजोन रिक्तिकारक हैं?
नीचे दिए कूट से सही उत्तर चुनिए-
1. क्लोरोफ्लुओरो कार्बन्स
2. हैलान्स
3. कार्बन टेट्राक्लोराइड
कूटः
(अ) केवल 1 (ब) केवल 1 एवं 2.
(स) केवल 2 एवं 3 (द) 1, 2 और 3
Ans- (द)
874. आवर्त सारणी में मूल तत्वच किस आधार क्रम में व्यवस्थित किये होते है?
(अ) प्रोटॉनों की संख्या (ब) द्रव्यमान संख्या
(स) न्यूट्रॉनों की संख्या (द) परमाणु क्रमांक
।दे. (द) आवर्त सारणी के मूल तत्व परमाणु क्रमांक के आधार पर व्यवस्थित होते हैं।
875. सोडियम बाइकार्बोनेट का प्रचलित नाम क्या है ?
(अ) कॉमन साल्ट (ब) वाशिंग सोडा
(स) विनीगर (द) बेकिंग सोडा
Ans- (द) सोडियम वाइकार्बोनेट (NaHCO3) का प्रचलित नाम बेकिंग सोडा या खाने वाला सोडा है।
876. निम्नलिखित में से कौन सा पौधा-घर (Greenhouse) गैस नहीं है ?
(अ) हीलियम (ब) मेथैन
(स) कार्बन डाइऑक्साइड (द) नाइट्रस ऑक्साइड
Ans- (अ) हीलियम पौधा घर (Green house) गैस नहीं है।
877. 1869 में किस वैज्ञानिक ने प्रथम कार्यात्मक आवर्त सारिणी को
विकसित किया ?
(अ) दमित्री मेंडेलीफ (ब) लोश्चमिड
(स) ग्रेगोर मेंडल (द) ग्रेगोर मेंडल
Ans- (अ) 1869 में दमित्री मेंडेलीफ ने प्रथम कार्यात्मक आवर्त सारणी को विकसित किया ।
878. कैल्सियम एल्युमिनेट तथा कैल्सियम सिलिकेट का मिश्रण कहलाता है।
(अ) ग्लास (ब) सीमेंट
(स) गारा (द) काँक्रीट
Ans- (ब) कैल्सियम एल्युमिनेट तथा कैल्सियम सिलिकेट के मिश्रण को सीमेंट कहते हैं।
879. एक परमाणु के तीन आधारभूत अवयव कौन से है?
(अ) प्रोटीन, न्यूट्रान तथा आयन
(ब) प्रोटोन, न्यूट्रॉन तथा इलेक्ट्रान
(स) प्रोटियम, ड्यूटिरियम तथा ट्राइटियम
(द) प्रोटीन, न्यूट्रिनोस तथा आयन
Ans- (स) एक परमाणु के तीन आधारभूत अवयव प्रोटॉन न्यूट्रॉन तथा इलेक्ट्रॉन होते हैं।
880. आधुनिक परमाणु सिद्धांत का प्रणेता कौन माना जाता है ?
(अ) लेवोसीयर (ब) जॉन डॉल्टन
(स) आइजेक न्यूटन (द) अल्बर्ट आइन्स्टाइन
Ans- (ब) आधुनिक परमाणु सिद्धांत का प्रणेता जॉनडालटन को माना जाता है।
881. निम्न में से किसका प्रयोग नाभिकीय विखण्डन के दौरान श्रृंखला अभिक्रिया को नियंत्रित करने में हो सकता है ?
(अ) बोरॉन (ब) यूरेनियम
(स) प्लूटोनियम (द) इनमें से कोई नहीं
Ans- (अ) बोरॉन का उपभोग नाभिकीय बिखण्डन के दौरान शृंखला अभिक्रिया को नियंत्रित करने के होता है।
882. क्लोरो-फ्लोरो कार्बन को निम्न नाम से भी जाना जाता है :
(अ) क्लोरोफार्म (ब) फ्रेऑन
(स) ग्लिसरॉल (द) मार्श गैस

Ans- (स) क्लोरो-फ्लोरो कार्बन (CFC) को फ्रीआन के नाम से जाना
जाता है ऋऋ क्लोरोफॉम का उपयोग निश्चेतक के रूप में होता है। मिथेन (CH4) को मार्श गैस भी कहा जाता है।
883. सोडियम कार्बोनेट सामान्यतया जाना जाता है
(अ) लाइम से (ब) सोडा से
(स) ग्लास से (द) क्वार्ट्ज से
Ans- (ब) सोडियम कार्बोनेट (Na2CO3.10H2O) को सामान्यतया सोडा के नाम से जाना जाता है।
884. , तथा की वेधन शक्तियाँ अपने अवरोही क्रम में किस क्रम में होती हैं?
(अ) (ब)
(स) (द)
Ans- (ब) , तथा की वेधन शक्तियों में सबसे अधिक की तथा सबसे कम का होता है।
885. ओजोन परत का अवक्षय मुख्यतः किस कारण से होता है ?
(अ) ज्वालामुखी उद्भेदन (ब) विमानन ईंधन
(स) रेडियोधर्मी किरणें (द) क्लोरोफ्लुओरोकार्बन
Ans- (द) क्लोरोफ्लुओरोकार्बन के कारण ओजोन (O3) परत का अवक्षय होता है। नाइट्रिक आक्साइड (NO) गैस भी ओजोन परत की क्षति
के लिए उत्तरदायी है।
886. Ag रासायनिक प्रतीक है
(अ) चांदी का (ब) सोना का
(स) पारा का (द) सीसा का
Ans- (अ) चाँदी का रासायनिक प्रतीक ।ह होता है
-. सोना ,, ,, ,, Au ,, ,,
– पारा ,, ,, ,, Hg ,, ,,
– सीसा ,, ,, ,, Pb ,, ,,
887. निम्नलिखित में से कौन-सा विकिरण सक्रिय तत्व है ?
(अ) सीसा (ब) पोटेशियम
(स) प्लूटोनियम (द) मोलिब्डेनम
Ans- (स) प्लूटोनियम विकिरण सक्रिय तत्व है।
888. सोडियम क्लोराइड को सामान्यतः जाना जाता है
(अ) कपड़े धोने के सोडा के रूप में
(ब) खाने के सोडा के रूप में
(स) चीनी के रूप में
(द) सामान्य नमक के रूप में
Ans- (द) सोडियम क्लोराइड (NaCl) को सामान्यतः सामान्य नमक (खानेवाला नमक),के रूप में जाना जाता है।
889. निम्नलिखित में से किसकी गंध सड़े हुए अंडे जैसी होती है ?
(अ) सल्फर डायऑक्साइड (ब) नाइट्रस ऑक्साइड
(स) हाइड्रोजन सल्फाइड (द) कार्बन मोनोऑक्साइड
Ans- (स) हाइड्रोजन सल्फाइड (H2S) की गंध सड़े अंडे की तरह होती है?
890. सूर्य से प्राप्त ऊष्म ऊर्जा को कहते हैं-
(अ) सौर्य ऊर्जा (ब) भू-ऊष्मीय ऊर्जा
(स) नाभिक ऊर्जा (द) इनमें से कोई नहीं
Ans- (स) सूर्य से प्राप्त ऊष्मा ऊर्जा के नाभिकीय ऊर्जा कहते हैं।
891. निम्नोक्त में से किसे पीटकर, पतली चादर (Seets) बनायी जा सकता है ?
(अ) जस्त (ब) फॉस्फरस
(स) सल्फर (द) ऑक्सीजन
Ans- (अ) जस्ता (र्द) को पीटकर पतली चादर (Seets) बनायी जा सकती है।
– धातु विद्युत और ऊष्मा के सुचालक होते हैं ठोस अवस्था में आघातवद्धनीय एवं तन्य होते हैं, इन्हें पीटकर पतली चादर बनायी जाती है।
892. भारत के परमाणु ऊर्जा प्रोग्राम के जनक थे-
(अ) डॉ.ए.एस. भटनागर (ब) डॉ.सी.वी. रामन
(स) डॉ. होमीभाभा. (द) मेघनाथ साहा
Ans- (स) भारत में परमाणु ऊर्जा प्रोग्राम के जनक डॉ. होमी जहाँगीर थे।
893. गैस तापमापी, द्रव तापमापियों की तुलना में ज्यादा संवेदी होते हैं, क्योंकि गैस
(अ) का प्रसार-गुणांक अधिक होता है
(ब) हल्की होती है
(स) की विशिष्ट ऊष्मा कम होती है।
(द) की विशिष्ट ऊष्मा अधिक होती है.
Ans- (अ)
894. किसी अयस्क को, वायु की अनुपस्थिति में उसके गलन-बिन्दु से कम ताप तक गर्म करने को क्या कहते हैं ?
(अ) अधिशोधन (परिष्करण) (ब) निस्तापन
(स) भर्जन (द) प्रगलन
Ans- (स) किसी अयस्क को वायु की अनुपस्थिति में उसके गलन-बिन्दु से कम ताप गर्म करने को भर्जन कहा जाता है।
895. निम्न में से कौन-सा तत्त्व सर्वाधिक विद्युत्-ऋणात्मक है,?
(अ) फ्लुओरीनं (ब) सोडियम
(स) क्लोरीन (द) ऑक्सीजन
Ans- (अ) फ्लोरीन सर्वाधिक विद्युत-ऋणात्मक तत्व है।
896. उस यौगिक को चिह्नित कीजिए, जिसमें आयनी, सहसंयोजक तथा उपसहसंयोजक आबंध हैं।
(अ) NH4Cl (ब) SO3
(स) SO2 (द) H2O
Ans- (स) SO2 , में आयनी, सहसंयोजक तथा उप सहसंयोजक आबंध पाये जाते हैं। .
897. किसी रेडियोऐक्टिव न्यूक्लीयस से उत्सर्जित -कण है
(अ) द्रुत गतिमान न्यूट्रॉन (ब) द्रुत गतिमान इलेक्ट्रॉन
(स) हाइड्रोजन न्यूक्ली (द) हीलियम न्यूक्ली
Ans- (ब) रेडियोक्टीविटी न्यूक्लीयस में जो उत्सर्जित -कण एक द्रुत गतिमान इलेक्ट्रॉन किरण होती है, यह किरण विद्युत ऋणात्मक होता है।
इसका द्रव्यमान हाईड्रोजन परमाणु के द्रव्यमान का भाग होता है। इसका वेग प्रकाश के वेग का वां भाग होता है।

898. किसी द्रव की तुलना में कोई ठोस अपना आकार सरलता से नहीं बदल सकता, क्योंकि-
(अ) ठोस में अंतराअणुक प्रथक्करण बृहत् होता है
(ब) ठोस का अणुक आकार अधिक बड़ा होता है
(स) ठोस का घनत्व उच्चतर होता है
(द) ठोस में अंतरा अणुक बल प्रबल होता है
Ans- (द) ठोस अवस्था में अणुओं के बीच की दूरी बहुत कम होती है। बीच की दूरी कम होने तथा परस्पर आकर्षण बल अधिक होने के कारण ठोसों में अणु सुव्यवस्थित व नियमित आकार में सजे रहते हैं। द्रवो में अणुओं के बीच की दूरी ठोसों की अपेक्षा अधिक होती है तथा अणुओं के बीच लगने वाले आकषर्ण बल का मान भी ठोसो
की अपेक्षा कम होता है।
899. ऐसीटिक अम्ल (decarboxylation) डिकार्बोक्सिलकरण पर देता है-
(अ) प्रोपेन (ब) ब्यूटेन
(स) मीथेन (द) ईथेन
Ans- (स) मिथेन 7 CH4, çksisu → C3H8] C;wVsu → C4H10
Decarboxylation Sodiumacelate
एसेटिक अम्ल

Methane gas
900. ऑर्थर कोर्नबर्ग को नोबल पुरस्कार उनके किस पर किए गए कार्य के लिए दिया गया था ?
(अ) त्रिक कूट क्रैक करना
(ब) न्यूक्लीक अम्लों का पृथक्करण
(स) उत्परिवर्तन सिद्धांत
(द) एक जीन एक पॉलीपेप्टिड परिकल्पना
Ans- (द) ऑर्थर कोर्नबर्ग को नोबल पुरस्कार दिया गया है। वो एक बायोकेमिस्ट वैज्ञानिक थे जो अमेरिका के निवासी थे । उनको नोबेल – पुरस्कार एक जीन एक पॉलीपेस्टिइड परिकल्पना के लिए दिया गया था।