धातु निष्कर्षण क्या है परिभाषा तथा उदाहरण Metal extraction definition in hindi

Metal extraction definition in hindi  धातु निष्कर्षण : क्या है परिभाषा तथा उदाहरण
परिचय :

  • भूमि पर सबसे अधिक पाए जाने वाले प्रथम तत्व क्रमशः O , Si , Al है।
  • कम सक्रिय धातुएं जैसे Pt तथा Au प्रकृति में मुक्त अवस्था में पाई जाती है।
  • अधिकांश सक्रीय धातुएँ प्रकृति में यौगिकों के रूप में पायी जाती है जैसे CuFeS2
    , Fe2O3 , FeS2 , ZnS
  •  धातुओं के वे यौगिक जो पृथ्वी में पाए जाते है जिन्हे खनन द्वारा बाहर निकाला जाता है उन्हें खनिज कहते है।
  • वे खनिज जिनसे धातु आसानी से तथा कम लागत लगाकर प्राप्त की जाती है उन्ही खनिजों को अयस्क कहते है।
  • सभी अयस्क खनिज होते है परन्तु सभी खनिज अयस्क नहीं होते

व्याख्या :
Al के दो खनिज ज्ञात है
(1) बॉक्साइड (Al2O3.2H2O)
(2) केओलिनाइट (Al2O3.SiO2.2H2O)
यहाँ बॉक्ससाइड से Al सुगमता से प्राप्त किया जा सकता है अतः केवल बोक्ससाइड को ही अयस्क कहते है।

  • अयस्क के साथ पाए जाने वाले व्यर्थ के पदार्थों को मैट्रिक्स /अघात्री /गैंग कहते है।
  • अयस्क से शुद्ध धातु प्राप्त करने की समस्त विधियों को अयस्क का धातुकर्म कहते है।

लोहे के अयस्क :
हेमेटाइट (Fe2O3)
मैग्नेटाइट (Fe3O)
सिडेराइट (FeCO3)
आयरन पाइराइट (FeS2)
कॉपर के अयस्क :
कॉपर पाइराइटीज (CuFeS2)
कॉपर ग्लास (Cu2O)
क्युप्राइट (Cu2O)
मेलेकाइट (CuCO3.Cu(OH)2)
जिंक के अयस्क :
जिकाइट (ZnO)
जिंक ब्लैंड (ZnS)
कैलामाइन (ZnCO3)
एल्युमिनियम के अयस्क :
बॉक्साइड (Al2O3.2H2O)
क्रायोलाइट (Na3AlF6)