रक्त में ऑक्सीजन का परिवहन किस वर्णक के द्वारा होता है oxygen in blood is transported by in hindi

By  

oxygen in blood is transported by in hindi रक्त में ऑक्सीजन का परिवहन किस वर्णक के द्वारा होता है ? the majority of oxygen in the blood is transported by ?

1. रक्त धारा में ऑक्सीजन ले जाने वाला प्रोटीन होता है-
(अ) कोलेजन (ब) इन्सुलिन
(स) हीमोग्लोबिन (द) ऐल्बूमिन
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2006
उत्तर-(स)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
2. हीमोग्लोबिन की अधिकतम बंधुता होती है –
(अ) ऑक्सीजन के लिए
(ब) कार्बन डाइऑक्साइड के लिए
(स) कार्बन मोनोऑक्साइड के लिए
(द) नाइट्रोजन के लिए
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2011
उत्तर-(स)
हीमोग्लोबिन की अधिकतम बंधुता (Highest Affinity) कार्बन मोनोऑक्साइड (CO) के लिए होती है जो कि ऑक्सीजन से 250 गुना अधिक है।
3. मानव-रक्त का रंग लाल होता है-
(अ) मायोग्लोबिन के कारण (ब) हीमोग्लोबिन के कारण
(स) इम्यूनोग्लोबुलिन के कारण (द) हैप्टोग्लोबिन के कारण
S.S.C.  मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(ब)
लाल रुधिर कोशिकाओं में हीमोग्लोबिन नामक पदार्थ होता है। जिसके कारण रक्त का रंग लाल होता है। इसमें ग्लोबिन नामक लौह-युक्त प्रोटीन है, जो ऑक्सीजन एवं कार्बन डाइऑक्साइड से संयोग करने की क्षमता रखता है। हीमोग्लोबिन ऑक्सीजन परिवहन का कार्य करता है। हीमोग्लोबिन की मात्रा में कमी होने पर रक्तक्षीणता रोग हो जाता है। हीमोग्लोबिन प्रोटीन होता है।
4. यदि व्यक्ति को गलत प्रकार का रक्त दे दिया जाए तो निम्नलिखित में से क्या परिणाम होता है?
(अ) सभी धमनियां संकुचित हो जाती हैं
(ब) सभी धमनियों का विस्तारण हो जाता है
(स) RBCs का संश्लेषण हो जाता है
(द) तिल्ली और लिम्फनोड्स में विकृत आ जाती है
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2010
उत्तर-(अ)
यदि व्यक्ति को गलत प्रकार का रक्त दे दिया जाए तो थक्का बन जाता है तथा धमनियां संकुचित हो जाती हैं।
5. जोड़ पर यूरिक एसिड क्रिस्टलों का एकत्र हो जाना कारण है-
(अ) गठिया का (ब) अस्थिसुषिरता का
(स) अस्थिमृदृता का (द) रिकेट्स का
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2010
उत्तर-(अ)
रक्त में मूत्राम्ल के उच्च स्तर के कारण जोड़ों पर यूरिक एसिड क्रिस्टल एकत्र हो जाने के कारण गाउट रोग (एक प्रकार का गठिया रोग) हो जाता है।
6. किस कशेरुकी में ऑक्सीजनित और विऑक्सीजनित रुधिर मिल जाते हैं?
(अ) मत्स्य (ब) उभयचर
(स) पक्षी (द) स्तनपायी
S.S.C.CPO परीक्षा, 2008
उत्तर-(ब)
उभयचर तथा अधिकांश सरीसृप में द्विक परिसंचरण तंत्र होता है, लेकिन हृदय हमेशा दो पंपों में विभक्त नहीं होता है जिसके कारण ऑक्सीजनित और विऑक्सीजनित रुधिर मिल जाते हैं उभयचरों में तीन कक्षों से युक्त हृदय पाया जाता है।
7. मानव मस्तिष्क में कितने निलय होते हैं?
(अ) 3 (ब) 4
(स) 5 (द) 2
S.S.C. स्टेनोग्राफर (‘सी‘ एवं ‘डी‘) परीक्षा, 2014
उत्तर-(ब)
मानव मस्तिष्क में 4 निलय होते हैं। दो पार्श्व निलय जो कि दाएं एवं बाएं गोलार्द्ध में स्थित होते हैं। अग्रमस्तिष्क में तृतीय निलय और पश्च मस्तिष्क में चतुर्थ निलय होता है।
8. निम्न में कौन मनुष्य में श्वसन-रंजक है?
(अ) हेमोसाइनीन (ब) हेमोइरीथिरीन
(स) β कैरोटीन (द) हीमोग्लोबीन
S.S.C. मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2013
उत्तर-(द)
श्वसन में गैसों का वहन रुधिर द्वारा होता है किंतु रुधिर स्वयं इन गैसों O2 तथा Co2 का वहन नहीं कर सकता। इस कार्य के लिए रुधिर में ‘श्वसन-रंजक‘ (Respiratory Pigments) होते हैं। मनुष्य में श्वसन-रंजक हीमोग्लोबिन होता है, जिसका रंग लाल होता है।
9. सार्वत्रिक रक्तदाता वे लोग हैं, जिनका रुधिर वर्ग होता है-
(अ) A (ब) B
(स) O (द) AB
S.S.C.F.C.I. परीक्षा, 2012
उत्तर-(स)
एंटीजन अनुपस्थित होने के कारण रक्त समूह ‘O’ को सर्वदाता रक्त समूह कहते हैं। रक्त समूह ‘AB’ को सर्वग्राही समूह कहते हैं क्योंकि इसमें कोई एंटीबॉडी नहीं होता है।
10. यदि माता-पिता में से एक का रुधिर वर्ग AB है और दूसरे का O तो उनके बच्चे का संभावित रुधिर वर्ग होगा-
(अ) A या B (ब) A या B या O
(स) A या AB या O (द) A या B या  AB या O
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(अ)
यदि माता-पिता में से एक का रुधिर वर्ग AB है और दूसरे का O उनके बच्चे का संभावित रुधिर वर्ग ‘A’ या ‘B’ होगा।
11. सर्वग्राही कौन-से रुधिर वर्ग का होता है?
(अ) AB (ब) O
(स) B (द) A
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(अ)
रक्त को चार प्रमुख समूहों में बांटा जा सकता है- A,B,AB तथा 01’O’ समूह का रक्त किसी भी व्यक्ति को दिया जाता है। इसलिए इसको ‘सर्वदाता‘ कहते हैं तथा AB रक्त समूह वाले व्यक्ति किसी भी रुधिर वर्ग के व्यक्ति का रक्त दिया जा सकता है, इसलिए इसको ‘सर्वग्राही‘ कहते हैं।
12. रक्त के  AB वर्ग वाला व्यक्ति ऐसे व्यक्ति को रक्तदान कर सकता है जिसके रक्त का वर्ग हो-
(अ) A (ब) B
(स) AB (द) O
S.S.C. (डाटा एंट्री ऑपरेटर) परीक्षा, 2009
उत्तर-(स)
AB रुधिर वर्ग में एंटिजन A और B तथा कोई एंटीबॉडी नहीं होता है, इसलिए इसको सर्वग्राही रुधिर वर्ग कहते हैं। यह सिर्फ AB रुधिर वाले व्यक्ति को रुधिर दे सकता है।
13. मानव का सामान्य रक्त दाब कितना होता है?
(अ) 80/120 मिमी. पारा (ब) 90/140 मिमी. पारा
(स) 120/160 मिमी. पारा (द) 85/150 मिमी. पारा
S.S.C.F.C.I. परीक्षा, 2012
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2006
उत्तर-(अ)
जब निलय अपने आकुंचन द्वारा धमनियों में रुधिर पंप करता है, तो इस रुधिर का दबाव धमनियों की दीवार पर पड़ता है। इस दबाव को रुधिर-दाब कहते हैं। इसे सबसे पहले एस.हेल्स ने वाम मापा। मानव का सामान्य रक्त दाब 80/120 मिमी, पारा होता है। जिसमें 80 मिमी. पारा डायस्टोलिक और 120 मिमी.पारा सिस्टोलिक होता है इसको स्फिग्नोमैनोमीटर यंत्र द्वारा मापते हैं।
14. एक किशोरवय मनुष्य में सामान्य रक्त दाब कितना होता है?
(अ) 80/120 mmHg (ब) 120/80 mmHg
(स) 130/90 mmHg (द) 160/95 mmHg
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2015
उत्तर-(ब)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
15. रक्तदाब का नियंत्रण कौन करता है?
(अ) अधिवृक्क (एड्रिनल) ग्रंथि (ब) अवटु (थाइरॉइड) ग्रंथि
(स) थाइमस (द) पीत पिंड (कॉर्पस लूटियम)
S.S.C.CPO परीक्षा, 2008
उत्तर-(अ)
यदि शरीर में रक्तदाब कम होता है तो एड्रिनल ग्रंथि से एड्रिनलिन हॉर्मोंस निकलता है, जो रक्त दाब को बढ़ाता है।
16. ‘हाइपरटेंशन‘ शब्द किसके लिए प्रयोग किया जाता है?
(अ) हृदय की गति तेज होने के लिए
(ब) हृदय की गति धीमी होने के लिए
(स) रक्तचाप घटने के लिए
(द) रक्तचाप बढ़ने के लिए
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2010
उत्तर-(द)
‘हाइपरटेंशन‘ शब्द का प्रयोग उच्च रक्तचाप के संदर्भ में होता है। सामान्य मनुष्य में रक्तचाप 120/80 mm Hg होता है जिसमें 120 mmHg सिस्टोलिक और 80 mmHg डायस्टोलिक होता है। हाइपरटेंशन के मरीजों में रक्तचाप सामान्य से कहीं ज्यादा बढ़ जाता है।
17. निम्नलिखित में से कौन-सा सही मेल है?
(अ) किरीट अघात – संवहन तंत्र विस्तार
(ब) एथिरोस्क्लेरोसिस – धमनियों का अवरुद्ध हो जाना
(स) हाइपरटेंशन – न्यून रक्त चाप
(द) हाइपोटेंशन – दिल का दौरा
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(ब)
धमनियों की ट्यूनिका मीडिया में कोलेस्ट्रॉल एकत्र हो जाने से धमनियां अवरुद्ध हो जाती हैं जिसे एथिरोस्क्लेरोसिस कहते हैं। इसकी वजह से रक्त चाप बहुत बढ़ जाता है।
18. मानव शरीर में रक्त की अपर्याप्त आपूर्ति को कहते हैं-
(अ) इस्कीमिया (ब) हाइपरीमिया
(स) हीमोस्टैसिस (द) हेमोरेज
S.S.C.Tax Asst. परीक्षा, 2009
उत्तर-(अ)
यदि मानव शरीर में रक्त की अपर्याप्त आपूर्ति हो तो इसे इस्कीमिया कहते हैं। इसकी वजह से ऊतकों में खाद्य-पदार्थ नहीं पहुंच पाता और वह मर जाती हैं।
19. वयस्क पुरुष में RBC की सामान्य संख्या होती है-
(अ) 5.5 मिलियन (ब) 5.0 मिलियन
(स) 4.5 मिलियन (द) 4.0 मिलियन
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(ब)
वयस्क पुरुष में -4.6-6.0 मिलियन/मिमी3
वयस्क महिला में -4.2-5.0 मिलियन/मिमी3
एक वयस्क पुरुष में RBC की सामान्य संख्या 5.0 मिलियन/मिमी3 रुधिर होता है। लाल रुधिर कणिकाओं की संरचना उभयावतल तथा तश्तरीनुमा होती है। इसमें केंद्रक नहीं होता है लेकिन ऊंट एवं लामा इसके अपवाद हैं, उनमें केंद्रक पाया जाता है। केंद्रक के साथ-साथ माइटोकॉण्ड्रिया, गॉल्जीकाय, राइबोसोम आदि अन्य प्रमुख अंग नहीं होते हैं। इसमें हीमोग्लोबिन नामक रंगा युक्त प्रोटीन होता है, जो ऑक्सीजन संवहन का कार्य करता है।
20. रक्त में प्रतिस्कंदक पदार्थ कौन-सा है?
(अ) फाइब्रिनोजन (ब) हिपैरिन
(स) थ्राम्बिन (द) ग्लोबिन
S.S.C.Section off. परीक्षा, 2007
उत्तर-(ब)
रुधिर में हिपैरिन नामक प्रतिस्कंदक पदार्थ तरल व सॉल दशा में रहता है। हिपैरिन को एंटीथ्राम्बिन कहते हैं। यह एक संयुक्त पॉलीसैक्राइड है। इसकी वजह से रुधिर में थक्का नहीं जमता है।
21. मानव रुधिर में कोलेस्टेरोल का सामान्य स्तर है-
(अ) 80-120 mg% (ब) 120-140 mg%
(स) 140-180 mg% (द) 180-200 mg%
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2011
उत्तर-(द)
मानव रुधिर में कोलेस्टेरोल का सामान्य स्तर 180-200 उहः होता है। अगर इसका स्तर 200 उहः से ज्यादा हो जाता है तो यह धमनियों पर जमा होने लगता है। इसे ऐथिरोस्क्ले रोसिस कहते हैं।