कादंबरी की रचना किसने की थी kadambari written by whom in hindi कादम्बरी नाटक के लेखक कौन थे नाम

By   May 14, 2021

kadambari written by whom in hindi writer name कादंबरी की रचना किसने की थी कादम्बरी नाटक के लेखक कौन थे नाम  kadambari ke rachaita kaun hai ?

प्रश्न :  एक महान रोमानी नाटक कादंबरी का लेखक था?
(अ) बाणभट्ट (ब) हर्षवर्धन
(स) भास्करवर्धन (द) बिंदुसार
S.S.C. C.P.O. परीक्षा, 2008
उत्तर-(अ)

व्याख्या : बाणभट्ट, हर्षवर्धन के दरबारी कवि थे। हर्षचरित तथा कादंबरी इनकी प्रमुख कृतियां हैं। ‘हर्षचरित‘, वर्धन इतिहास का सर्वप्रमुख स्रोत है। इसे ऐतिहासिक विषय पर गद्य काव्य लिखने का प्रथम सफल प्रयास कहा जा सकता है।

गुप्तोत्तर काल
ऑनलाइन परीक्षा प्रश्न (2016)
 सूर्य मंदिर कौन-से राज्य में स्थित है? – उड़ीसा
 राजा हर्ष ने अपनी राजधानी स्थानांतरित की थी।
– थानेश्वर, कन्नौज
 विक्रमशिला विश्वविद्यालय के संस्थापक कौन थे? – धर्मपाल
 भारत के किस क्षेत्र में ‘कामरूप‘ एक प्राचीन नाम है? – असम
 कंबोडिया में स्थित अंकोरवाट का सुप्रसिद्ध विष्णु मंदिर किसने बनवाया था? – सूर्यवर्मन II
ऑफलाइन परीक्षा प्रश्न (2006-2015)
1. ‘हर्षचरित‘ के लेखक कौन थे?
(अ) बाणभट्ट (ब) अमर सिंह
(स) कालिदास (द) हरिसेन
S.S.C.  मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2013
उत्तर-(अ)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
3. निम्नलिखित में से कौन-सा युग्म सही मेल नहीं खाता?
(अ) विक्रमादित्य-चैतन्य (ब) हर्षवर्धन-ह्वेनसांग
(स) चाणक्य-चंद्रगुप्त (द) अकबर-टोडरमल
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2015
उत्तर-(अ)
ह्वेनसांग 636 ई. में हर्षवर्धन की राजधानी कन्नौज आया था। चाणक्य अथवा कौटिल्य (विष्णुगुप्त) चंद्रगुप्त मौर्य का गुरु व प्रधानमंत्री था। टोडरमल अकबर का राजस्व मंत्री/अधिकारी था जबकि चैतन्य बंगाल के शासक हुसैन शाह के समकालीन थे।
4. 13वीं शताब्दी में राजस्थान के माउंट आबू में प्रसिद्ध दिलवाड़ा मंदिर किसने बनवाया था?
(अ) महेंद्रपाल (ब) महिपाल
(स) राज्यपाल (द) तेजपाल
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(द)
13वीं शताब्दी में राजस्थान के माउंट आबू में प्रसिद्ध दिलवाड़ा मंदिर गुजरात के बघेलवंशीय शासक वीरधवल के दो मंत्रियों, वास्तुपाल एवं तेजपाल ने बनवाया था। यह मंदिर जैनियों को समर्पित है।
5. खुजराहों मंदिरों का निर्माण किसने किया था?
(अ) होल्कर (ब) सिंधिया
(स) बुंदेला राजपूत (द) चंदेल राजपूत
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2010
उत्तर-(द)
मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में स्थित ‘खजुराहा‘ मंदिर-समूहों के लिए अति प्रसिद्ध है। इन मंदिरों का निर्माण 10वीं से 12वीं सदी ई. में चंदेल शासकों के शासनकाल में हुआ। यहां 85 मंदिरों के निर्माण का उल्लेख मिलता है, किंतु वर्तमान में 30 मंदिर ही शेष हैं।
6. मिहिर भोज राजपूतों के किस कुल से संबंधित है?
(अ) प्रतिहार (ब) राठौर
(स) चैहान (द) परमार
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2006
उत्तर-(अ)
रामभद्र का पुत्र और उत्तराधिकारी मिहिर भोज प्रथम, प्रतिहार वंश का सर्वाधिक महत्त्वपूर्ण शासक हुआ। इसने ‘आदिवराह‘ तथा ‘प्रभास‘ जैसी उपाधियां धारण की, जो उसके द्वारा चलाए गए चांदी के द्रम सिक्कों पर अंकित हैं।
7. प्रतिहार वंश का महानतम राजा कौन था?
(अ) वत्सराज (ब) नागभट्ट प्प्
(स) भोज (मिहिरभोज) (द) दंतिदुर्ग
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2015
उत्तर-(स)
प्रतिहार वंश का महानतम राजा भोज (मिहिरभोज) प्रथम था। कन्नौज पर अधिकार के लिए उसने पाल शासक देवपाल तथा राष्ट्रकूट शासक कृष्ण द्वितीय के साथ होने वाले त्रिपक्षीय संघर्ष में हिस्सा लिया। उसने आदिवाराह की उपाधि धारण की।
8. ह्वेनसांग किसके शासनकाल के दौरान भारत आया था?
(अ) चंद्रगुप्त प्रथम (ब) चंद्रगुप्त द्वितीय
(स) हर्षवर्धन (द) रुद्रदमन
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तर परीक्षा, 2011
उत्तर-(स)
प्रसिद्ध चीनी यात्री ह्वेनसांग लगभग 630-643 ई. के मध्य हर्षवर्धन के शासनकाल के दौरान भारत आया था। ह्वेनसांग की भारत यात्रा का वृत्तांत सी-यू-की नामक ग्रंथ तथा उसके मित्र ह्वीली द्वारा रचित ह्वेनसांग की जीवनी से प्राप्त होता है। ह्वेनसांग के विवरण से तत्कालीन भारत के सामाजिक, राजनीतिक, आर्थिक, धार्मिक और प्रशासकीय पक्ष की जानकारी प्राप्त होती है।
9. उस चीनी यात्री का नाम क्या था जो हर्षवर्धन के दरबार में आया था?
(अ) ह्वेनसांग (ब) इत्सिंग
(स) फाह्यान (द) यूविली
S.S.C. मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2014
उत्तर-(अ)
ह्वेनसांग (Hiuen Tsang) नामक चीनी यात्री हर्षवर्धन के दरबार में आया था। उसने अपने यात्रा विवरण को ‘सी-यू-की‘ नाम से संकलित किया है। वह कन्नौज की धर्मसभा का अध्यक्ष था तथा उसने प्रयाग के छठे महामोक्षपरिषद में भाग लिया था।
10. ‘प्रिंस ऑफ पिलग्रिम्स‘ नाम किसे प्रदान किया गया था?
(अ) फाह्यान (ब) इत्सिंग
(स) ह्वेनसांग (द) मेगस्थनीज
Hiuen Tsang संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2011
उत्तर-(स)
हर्ष के शासनकाल में भारत आए चीनी यात्री ह्वेनसांग को ‘प्रिंस ऑफ पिलग्रिम्स‘ कहा जाता है।
11. निम्नलिखित मध्यकालीन यात्रियों का उनके देशों के साथ मिलान करिए।
A. मार्कोपोलो 1. स्पेन
B . इब्नबतूता 2. बल्ख
C . एन्टोनियो मोनसेरेट 3. इटली
D. महमूद वली बाल्खी 4. मोरक्को
A B C D
(अ) 3 4 1 2
(ब) 1 3 2 4
(स) 4 3 1 2
(द) 3 1 4 2
S.S.C. C.P.O. परीक्षा, 2012
उत्तर-(अ)
सही सुमेलित इस प्रकार है-
मार्कोपोलो – इटली
इब्नबतूता – मोरक्को
एन्टोनियो मोनसेरेट – स्पेन
महमूद वली बाल्खी – बल्ख
12. भारत में नालंदा विश्वविद्यालय किस राज्य में स्थित है?

(अ) बंगाल (ब) बिहार
(स) उड़ीसा (द) उत्तर प्रदेश
S.S.C.k~ Tax Asst. परीक्षा, 2009
उत्तर-(ब)
दिए गए प्रश्न के विकल्पानुसार नालंदा प्राचीनतम विश्वविद्यालय है। नालंदा वर्तमान बिहार राज्य में अवस्थित है।
13. शृंगेरी, बद्रीनाथ, द्वारका और पुरी में चार ‘मठ‘ स्थापित
किए गए थे –
(अ) रामानुज द्वारा (ब) अशोक द्वारा
(स) आदि शंकराचार्य द्वारा (द) माधव विद्यारण्य द्वारा
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2011
उत्तर-(स)
आदि शंकराचार्य ने देश की चारों दिशाओं- उत्तर में ‘बद्रीनाथ‘, दक्षिण में ‘शृंगेरी‘, पूर्व में ‘पुरी‘ तथा पश्चिम में ‘द्वारका‘ में प्रसिद्ध मठों की स्थापना की।
14. नालंदा विश्वविद्यालय को नष्ट करने वाला मुस्लिम आक्रमणकारी था-
(अ) अलाउद्दीन खिलजी (ब) मुहम्मद बिन तुगलक
(स) मुहम्मद बिन बख्तियार (द) मुहम्मद बिन कासिम
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2011
उत्तर-(स)
नालंदा और विक्रमशिला के विश्वविद्यालयों को बौद्ध विहार अथवा
दुर्ग समझकर मुस्लिम आक्रमणकारी, मुहम्मद बिन बख्तियार खिलजी द्वारा नष्ट किया गया था।
15. हर्षवर्धन को किसने पराजित किया था?
(अ) प्रभाकर वर्धन (ब) पुलकेशिन II
(स) नरसिंह वर्मन पल्लव (द) शशांक
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2010
उत्तर-(ब)
हर्षवर्धन को दक्षिण भारत के शासक पुलकेशिन II (चालुक्य वंश) ने नर्मदा नदी के किनारे 630 ई. में हराया था।
16. हर्षवर्धन का समकालीन दक्षिण भारतीय शासक कौन था?
(अ) कृष्णदेवराय (ब) पुलकेशिन II
(स) मयूरवर्मा (द) चिक्कादेवराज वोडेयार
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2014
उत्तर-(ब)
हर्षवर्धन का समकालीन दक्षिण भारतीय शासक चालुक्य वंश का पुलकेशिन द्वितीय था। इसने हर्षवर्धन को पराजित किया और ‘परमेश्वर‘ की उपाधि धारण की थी।
17. हर्षवर्धन की आरंभिक राजधानी कहां थी?
(अ) प्रयाग (ब) कन्नौज
(स) थानेश्वर (द) मथुरा
S.S.C.C.P.O. परीक्षा, 2012
उत्तर-(स)
हर्षवर्धन की आरंभिक राजधानी ‘थानेश्वर‘ में थी, बाद में उसने अपनी राजधानी ‘कन्नौज‘ स्थानांतरित की थी। 605 ई. में हर्षवर्धन के पिता प्रभाकरवर्धन की मृत्यु हो गई। हर्षवर्धन शासक बना और 606 ई. में अपनी राजधानी कन्नौज बनाई और इस उपलक्ष्य में हर्ष संवत् प्रारंभ किया। अतः अभीष्ट विकल्प (स) होगा।
18. 738 ईस्वी में अरबों को पराजित किया था?
(अ) प्रतिहारों ने (ब) राष्ट्रकूटों ने
(स) पालों ने (द) चालुक्यों ने
S.S.C. Section off. परीक्षा, 2007
उत्तर-(अ)
738 ई. में ‘राजस्थान का युद्ध‘ हुआ था। इस युद्ध में प्रतिहार राजा नागभट्ट प्रथम के नेतृत्व में राजपूतों का एक संघ बना था।
राजपूतों के इस संघ ने जुनैद इब्न अब्दुर-रहमान-अल-मारी के नेतृत्व वाली अरब सेना को हराया था।
19. सांची का महान स्तूप है-
(अ) उत्तर प्रदेश में (ब) मध्य प्रदेश में
(स) अरुणाचल प्रदेश में (द) आंध्र प्रदेश में
S.S.C.  (डाटा एंट्री ऑपरेटर) परीक्षा, 2009
उत्तर-(ब)
‘सांची‘ मध्य प्रदेश के रायसेन में स्थित है। यहां स्तूपों की संख्या तीन है। सबसे बड़ा स्तूप महास्तूप के नाम से प्रसिद्ध है। इस स्तूप को सम्राट अशोक ने बनवाया था। प्रारंभ में यह ईंट निर्मित था, तत्पश्चात् शुंग शासकों द्वारा इसका विस्तार पाषाण शिलाओं से किया गया। स्तूप का व्यास लगभग 40 मीटर और ऊंचाई 16.50 मीटर है। इसके एक ओर जंगले एवं तोरण द्वार आंध्र सातवाहन युग में बनाए गए।