निषेचन क्या है Fertilization के प्रकार परिभाषा , अनिषेक जनन in hindi

Fertilization & Non-fertilization definition types अनिषेक जनन , आंतरिक , बाह्य निषेचन क्या है  के प्रकार परिभाषा in hindi

निषेचन (Fertilization):- नर तथा मादा युग्मकों के संयोजन की क्रिया को निषेचन कहते है। इससे द्विगुणित युग्मनज का मिर्माण होता है।

चित्र

  1. बाह्य निषेचन (External fertilization):- जब निषेचन की क्रिया शरीर के बाहर हो तो उसे बाहा्र निषेचन कहते है उदाहरण:- मेढक, अस्धील मछलियाँ

इस प्रकार के निषेचन हेतु जलीय माध्यम की आवश्यकता होती है इसमें नर युग्मक अधिक संख्या में उत्पन्न किये जाते है क्योकि स्थानान्तरण के दौरान बहुत युग्मकों के नष्ट होने की संभावना रहती है।

  1. आंतरिक निषेचन (Internal fertilization):-जबनिषेचन की क्रिया मादा शीरर के अन्दर होती है तो इसे आन्तरिक निषेचन कहते है।

उदाहरण:- अनुष्य, बन्दर

अनिषेक जनन(Non-fertilization):- बिना निषेचन के जनन की क्रिया को अभिषेक जनन कहते है। इसमें मादा युग्मक नर युग्मक से संयोजित हुये बिना ही युग्मनज में बदल जाता है।

उदाहरण:- रोटिकेश, मधुमक्खी, कुवर छिपकलियाँ एवं कुमक्षी

3 thoughts on “निषेचन क्या है Fertilization के प्रकार परिभाषा , अनिषेक जनन in hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *