Physics

प्रतिचुम्बकीय पदार्थ की परिभाषा क्या है , उदाहरण , व्याख्या , गुण Diamagnetic substances in hindi

Diamagnetic substances in hindi प्रतिचुम्बकीय पदार्थ की परिभाषा क्या है , उदाहरण , व्याख्या :  जब इन पदार्थों को असमान चुम्बकीय क्षेत्र में रखा जाए तो ये पदार्थ अधिक प्रबल चुम्बकीय क्षेत्र से कम चुंबकीय क्षेत्र की ओर गति करते है

दूसरे शब्दों में कहे तो
इन पदार्थों की उपस्थिति से चुम्बकीय क्षेत्र का मान कम हो जाता है
अत: हम इनको निम्न प्रकार परिभाषित कर सकते है ” वे पदार्थ जो अधिक चुम्बकीय क्षेत्र से कम चुंबकीय क्षेत्र की ओर गति करते है तथा जिनकी उपस्थिति से चुंबकीय क्षेत्र का मान कम हो जाता है उन पदार्थों को प्रतिचुम्बकीय पदार्थ कहते है “
उदाहरण : सोना , चांदी , ताम्बा आदि

प्रतिचुम्बकीय पदार्थों की व्याख्या

वे पदार्थ यह गुण दर्शाते है जिनमे इलेक्ट्रान युग्मित अवस्था में पाए जाते है इस इलेक्ट्रॉनों के युग्म में दोनों इलेक्ट्रोनो का चक्रण एक दूसरे के विपरीत दिशा में है जिससे दोनों इलेक्ट्रॉन आपस में एक दूसरे के चुम्बकीय आघूर्ण को नष्ट कर देते है जिससे परिणामी आघूर्ण का मान शून्य होता है।
जब इलेक्ट्रान किसी वृताकार कक्षा में उपस्थित है तथा इसे बाह्य चुम्बकीय क्षेत्र में इस प्रकार रखा जाए की चुंबकीय क्षेत्र इस वृताकार कक्षा के तल के लम्बवत हो , इस दशा में युग्म के कारण उत्पन्न चुम्बकीय आघूर्ण का मान एक दूसरे को नष्ट नहीं करता है जिससे पदार्थ कुछ चुम्बकित हो जाती है।

प्रति चुंबकीय पदार्थ के गुण

1. जब किसी प्रतिचुंबकीय पदार्थ की छड को चुम्बक के ध्रुवों N-S के मध्य रखा जाता है तो प्रतिचुम्बकीय पदार्थ अपने गुण के कारण स्वत: चुम्बकीय क्षेत्र के लम्बवत स्थापित हो जाता है।

 

2. जब एक प्रति चुम्बकीय पदार्थ के घोल को नली में भरकर इसके एक सिरे को चुम्बकीय क्षेत्र में रखते है तो जिस तल पर चुम्बकीय क्षेत्र आरोपित किया गया है उसका तल गिर जाता है।

3. प्रति चुम्बकीय पदार्थ को असमान चुंबकीय क्षेत्र में रखने पर यह अधिक प्रबल चुम्बकीय क्षेत्र से कम क्षेत्र की ओर गति करने लगता है।
जब प्रतिचुम्बकीय पदार्थ को किसी प्याली में रखकर दो पास पास रखी चुम्बको के मध्य रखते है तो यह कुछ दब जाता है तथा दूर दूर रखी चुम्बको के मध्य रखने पर यह कुछ ऊपर उठ जाता है क्यूंकि चुम्बकीय क्षेत्र का मान दोनों चुम्बको के मध्य अधिक होता है।

4. इनकी चुम्बकित होने की प्रवृति ऋणात्मक होती है।

Related Articles

1 thought on “प्रतिचुम्बकीय पदार्थ की परिभाषा क्या है , उदाहरण , व्याख्या , गुण Diamagnetic substances in hindi”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close