Author Archives: admin

आवेश का मात्रक क्या है , विमा , परिभाषा तथा सूत्र unit of charge in hindi

आवेश का मात्रक (unit of charge) : विद्युत धारा को S.I (system international) (अंतर्राष्ट्रीय पद्धति) में मूल राशि के रूप में माना जाता है तथा विधुत धारा का मात्रक एम्पियर (A) होता हैं।  आवेश का S.I पद्धति में मात्रक कूलम्ब (Coulomb) (कूलॉम) होता है। 1C = 1 AS विद्युत आवेश की विमा निम्न प्रकार लिखी जाती… Continue reading »

विद्युतदर्शी क्या है , चित्र , बनावट व कार्यविधि electroscope in hindi ,working

electroscope in hindi ,working विद्युतदर्शी यंत्र : किसी वस्तु पर उपस्थित आवेश के बारे में जानकारी प्राप्त करने के लिए जैसे की उस वस्तु पर कितना (अनुमानित) आवेश उपस्थित है , यदि दो आवेशित वस्तु दी गयी है तो उन दोनों वस्तुओं पर आवेश की प्रकृति समान है या विपरीत इस प्रकार की जानकारी हमें… Continue reading »

प्रेरण द्वारा आवेशन क्या है , कैसे होता है charging by induction in hindi

charging by induction in hindi प्रेरण द्वारा आवेशन : जब अनावेशित वस्तु से स्पर्श कराये बिना ही अनावेशित वस्तु को आवेशित करने की विधि को प्रेरण द्वारा आवेशन कहते है , प्रेरण द्वारा आवेशन विधि में अनावेशित वस्तु पर आवेशित वस्तु का विपरीत आवेश उत्पन्न होता है। इस प्रेरण द्वारा आवेशन को निम्न उदाहरण द्वारा… Continue reading »

चालन (स्पर्श) द्वारा आवेश , आवेशन क्या है charging by conduction (contact) in hindi

charging by conduction (contact) in hindi चालन (स्पर्श) द्वारा आवेश : चालन द्वारा आवेश को समझने से पूर्व यह समझ ले की चालक व कुचालक होते क्या है ? वे पदार्थ जिनमें विद्युत आवेश का मुक्त प्रवाह होता है उन पदार्थों को चालक कहते है जैसे तांबा। वे पदार्थ जिनमें आवेश का प्रवाह नहीं होता… Continue reading »

घर्षण द्वारा आवेशन क्या है charging by friction in hindi

charging by friction in hindi घर्षण द्वारा आवेशन  : घर्षण का तात्पर्य है रगड़ना , जब दो वस्तुओं को रगड़ा जाता है तो घर्षण के कारण उन वस्तुओं में विद्युत आवेश उत्पन्न हो जाता है क्यूँकि यह आवेश घर्षण द्वारा उत्पन्न होता है इसलिए इसे घर्षण विद्युत तथा इस प्रक्रिया को घर्षण द्वारा आवेशन कहते… Continue reading »

आवेश के प्रकार , आवेश कितने प्रकार का होता है types of charge in hindi

types of charge in hindi आवेश के प्रकार :आवेश कितने प्रकार का होता है यह समझने के लिए पहले निचे दिए गए प्रयोग को ठीक से समझे। आवेश का प्रायोगिक सत्यापन (experiment on charge) :  सर्वप्रथम हम दो कांच की छड़ लेते है दोनों छड़ो को रेशम (silk) के कपडे के रगड़कर चित्रानुसार एक दूसरे… Continue reading »

विद्युत आवेश की परिभाषा क्या है electric charge in hindi

electric charge in hindiविद्युत आवेश की परिभाषा क्या है –  विद्युत आवेश : प्रसिद्ध वैज्ञानिक थेल्स (thales) ने बताया की जब काँच की छड़ को रेशम के कपडे से रगड़ा जाता है तो कांच की छड़ रगड़न के बाद छोटे छोटे कणों , कागज़ के टुकड़े इत्यादि को चिपकाना प्रारम्भ कर देता है , घर्षण… Continue reading »

मॉडुलन की परिभाषा क्या है , आवश्यकता तथा प्रकार modulation definition & types

प्रश्न 1 : मॉडुलन किसे कहते है इसकी आवश्यकता समझाइये माॅडुलन के प्रकार लिखिए और इन्हें तंरग चित्र में प्रदर्शित कीजिए? उत्तर :  मॉडुलन (Modulation):- संदेश सिग्नल निम्न आवृत्ति के होते है। जिन्हें अधिक दूरी तक प्रेषित करना सम्भव नहीं है इसलिए इन्हंें उच्च आवृत्ति की वहक तरंगों पर अध्यारोपित कराते है। इस प्रक्रिया को माॅडुलन… Continue reading »

विद्युत चुम्बकीय तरंगों के संचरण की विधियाँ , भू-तरंग , व्योम , आकाश तरंग संचरण

प्रश्न 1 : विद्युत चुम्बकीय तरंगों के संचरण की विधियाँ समझाइये। उत्तर :  विद्युत चुम्बकीय तरंगों के संचरण की विधियाँ निम्न है ’ 1. भू-तरंग संचरण:- कम आवृत्ति की तरंगों के प्रेषक के लिए ऐन्टिना की लम्बाई अधिक लेनी पडती है। ऐसे ऐन्टिना पृथ्वी सें ज्यादा ऊचाई पर लगाना सम्भ्ज्ञव नहीं है ये कम ऊँचाई पर… Continue reading »

निम्न की परिभाषा क्या है definitions in communication system physics

निम्नलिखित की परिभाषा दीजिए अथवा समझाइये? उत्तर :  1. ट्रांसड्यूसर (Transducer):- यह ऐसी युक्ति है जो ऊर्जा का एक रूप से दूसरे रूप में परिवर्तित करती है जैसे माइक्रोफोन ध्वनि को विद्युत संकेतों में बदलता है। फोटो डायोड प्रकाशीय सिग्नल को विद्युत सिग्नल में बदलता है। 2. सिग्नल (Signal):– सूचना को विद्युत रूप में रूपान्तरित… Continue reading »