अर्थशास्त्र नामक पुस्तक की रचना किसने की थी , लेखन कौन है arthashastra was written by in hindi

By   May 10, 2021

arthashastra was written by in hindi अर्थशास्त्र नामक पुस्तक की रचना किसने की थी , लेखन कौन है ?

प्रश्न : ‘अर्थशास्त्र‘ की रचना किसने की थी?
(अ) घनानंद (ब) कौटिल्य
(स) बिंबिसार (द) पुष्यमित्र
S.S.C.K C.P.O. परीक्षा, 2011
उत्तर-(ब)
प्रसिद्ध ग्रंथ ‘अर्थशास्त्र‘ की रचना कौटिल्य (चाणक्य) ने की थी। मूलतः राजनीति शास्त्र के इस ग्रंथ से मौर्यकालीन प्रशासन के साथ-साथ तत्कालीन सामाजिक आर्थिक स्थिति की भी जानकारी प्राप्त होती है।

18. ‘अर्थशास्त्र‘ के लेखक किसके समकालीन थे?
(अ) अशोक (ब) चंद्रगुप्त मौर्य
(स) समुद्रगुप्त (द) चंद्रगुप्त विक्रमादित्य
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2014
उत्तर-(ब)
चंद्रगुप्त मौर्य ने चाणक्य या कौटिल्य की सहायता से अंतिम नंदवंशीय शासक घनानंद को पराजित कर 322 ई.पू. में मौर्य साम्राज्य की स्थापना की थी। ‘अर्थशास्त्र‘ का लेखक कौटिल्य, चंद्रगुप्त मौर्य का प्रधानमंत्री था।

 मौर्य काल
ऑनलाइन परीक्षा-प्रश्न (2016)
 अशोक के शिलालेख पर किस लिपि का प्रयोग किया गया था?
– ब्राह्मी
 मौर्य साम्राज्य की राजधानी कहां स्थित थी? -पाटलिपुत्र
 कौटिल्य द्वारा रचित प्रसिद्ध पुस्तक कौन-सी है? – अर्थशास्त्र
ऑफलाइन परीक्षा-प्रश्न (2006-2015)
1. यूनानियों को भारत से बाहर किसने निकाला था?
(अ) चंद्रगुप्त मौर्य (ब) चंद्रगुप्त विक्रमादित्य
(स) अशोक (द) बिंदुसार
S.S.C.  स्टेनोग्राफर परीक्षा, 2011
उत्तर-(अ)
यूनानियों को भारत से बाहर निकालने का श्रेय चंद्रगुप्त मौर्य को जाता द्य है। 305 ई. पू. में यूनानी शासक सेल्यूकस और चंद्रगुप्त मौर्य के मध्य द्य द्य हुए युद्ध के उपरांत हुई संधि के फलस्वरूप सेल्यूकस ने चंद्रगुप्त मौर्य के साथ अपनी पुत्री के विवाह में दहेज के रूप में एरिया, अराकोसिया, जेड्रोसिया और पेरीपेमिसदाई के क्षेत्रों को दिया था।
2. बिंदुसार के शासन के दौरान अशांति कहां थी?
(अ) उज्जयनी (ब) पुष्कलावती
(स) तक्षशिला (द) राजगृह
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2014
उत्तर-(स)
चंद्रगुप्त मौर्य के उत्तराधिकारी एवं उसके पुत्र ‘बिंदुसार‘ के शासनकाल में ‘तक्षशिला‘ में विद्रोह हुआ। उसने अशोक को कुमारामात्य बनाकर वहां का विद्रोह दबाने के लिए भेजा। अशोक ने न केवल विद्रोह को शांत किया, बल्कि वहां की प्रजा का प्रेम
और विश्वास भी जीत लिया।
3. चंद्रगुप्त मौर्य ने अपने अंतिम दिन यहां गुजारे-
(अ) काशी (ब) पाटलिपुत्र
(स) उज्जैन (द) श्रवणबेलगोला
S.S.C  संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2014
उत्तर-(द)
जैन लेखों के अनुसार, चंद्रगुप्त मौर्य ने अपने जीवन के अंतिम चरण में अपने पुत्र के पक्ष में सिंहासन छोड़कर जैन साधु भद्रबाहु के साथ श्रवणबेलगोला (मैसूर) चले गए और यही इसने कायाक्लेश द्वारा शरीर त्याग दिया था। इसे जैन धर्म में ‘सल्लेखना‘ कहा गया है।
4. अशोक के अधीन मौर्य राजतंत्र का सबसे सही वर्णन निम्नलिखित में से कौन सा होगा?
(अ) प्रबुद्ध स्वेच्छाचारी शासन (ब) केन्द्रीकृत एकाधिपत्य
(स) प्राच्य स्वेच्छाचारी शासन (द) निर्देशित लोकतंत्र
S.S.C Tax Asst. परीक्षा, 2006
उत्तर-(ब)
अशोक के अधीन मौर्य राजतंत्र केन्द्रीकृत शासन के आधिपत्य पर
आधारित था।
5. अशोक की प्रशासनिक नीति में भारी परिवर्तन किस घटना से आया?
(अ) तीसरी बौद्ध परिषद्
(ब) कलिंग युद्ध
(स) बौद्ध धर्म को अपनाना
(द) मिशनरी को सीलोन भेजना
S.S.C Tax Asst. परीक्षा, 2009
उत्तर-(ब)
अशोक की प्रशासनिक नीति में भारी परिवर्तन ‘कलिंग युद्ध‘ की घटना के बाद आया। कलिंग युद्ध के बाद ही अशोक द्वारा ‘भेरी घोष‘ की नीति का त्याग कर ‘धम्म घोष‘ की नीति को अपनाया गया।
6. निम्नलिखित में से वह व्यक्ति कौन है, जिसका नाम ‘देवानाम
प्रियदर्शी‘ था?
(अ) मौर्य राजा अशोक (ब) मौर्य राजा चंद्रगुप्त मौर्य
(स) गौतम बुद्ध (द) भगवान महावीर
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(अ)
मौर्य सम्राट अशोक के अभिलेखों में उसे ‘देवानामप्रिय, देवानामप्रियदर्शी तथा राजा‘ आदि की उपाधियों से संबोधित किया गया है। मास्की, गुर्जरा, निटूर तथा उदेगोलम लेखों में उसका नाम ‘अशोक‘ मिलता है तथा पुराणों में उसे ‘अशोक वर्धन‘ कहा गया है।
7. देवानामप्रिय के नाम से कौन विख्यात है?
(अ) चंद्रगुप्त मौर्य (ब) अशोक
(स) समुद्रगुप्त (द) हर्षवर्धन
S.S.C. मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2014
उत्तर-(ब)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
8. कलिंग युद्ध के बाद निम्न में से किसने महाराज अशोक के रूपांतरण को दर्ज किया।
(अ) रॉक एडिक्ट II (ब) रॉक एडिक्ट IV
(स) रॉक एडिक्ट VI (द) रॉक एडिक्ट XIII
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(द)
13वें शिलालेख से कलिंग युद्ध के संदर्भ में स्पष्ट साक्ष्य मिलते हैं। यह घटना अशोक के शासनकाल के 8वें वर्ष अर्थात 261 ई.पू. में घटित हुई। इस शिलालेख में उसने कलिंग युद्ध से हुई पीड़ा पर दुःख और पश्चाताप व्यक्त किया है।
9. किस शिला राजादेश में अशोक ने कलिंग युद्ध के हताहतों का उल्लेख किया है और युद्ध त्याग की घोषणा की है?
(अ) मास्की राजादेश (ब) शिला राजादेश XIII
(स) शिला राजादेश XI (द) शिला राजादेश X
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2014
उत्तर-(ब)
13वें शिलालेख के राजादेश में अशोक ने कलिंग युद्ध के हताहतों का उल्लेख किया है और युद्ध त्याग की घोषणा की है। इसी शिलालेख में दक्षिण सीमा पर स्थित राज्य चोल, पाण्ड्य, सतियपुत्त, केरलपुत्त एवं ताम्रपर्णि (लंका) बताए गए हैं।
10. चंद्रगुप्त मौर्य के दरबार में भेजा गया यूनानी राजदूत था –
(अ) कौटिल्य (ब) सेल्यूकस निकेटर
(स) मेगस्थनीज (द) जस्टिन
S.S.C संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2011
उत्तर-(स)
दिए गए विकल्पों में से मेगस्थनीज सर्वप्रथम भारत आया था। मेगस्थनीज यूनानी (ग्रीस) शासक सेल्यूकस निकेटर का राजदूत था, जो चंद्रगुप्त मौर्य के दरबार में आया था। इसने अपनी पुस्तक ‘इंडिका‘ में मौर्य युगीन समाज एवं प्रशासन के विषय में लिखा है।
11. ‘इंडिका‘ किसने लिखी?
(अ) आई-त्सिंग (ब) मेगस्थनीज
(स) फाह्यान (द) ह्वेनसांग
S.S.C. मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2013
उत्तर-(ब)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
12. मौर्य दरबार में ग्रीस के राजदूत का क्या नाम था?
(अ) सिकंदर (ब) मेगस्थनीज
(स) प्लेटो (द) अरस्तू
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2014
उत्तर-(ब)
उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
13. अशोक ने किस बौद्ध साधु से प्रभावित होकर बौद्ध धर्म
अपनाया?
(अ) विष्णुगुप्त (ब) उपगुप्त
(स) ब्रह्मगुप्त (द) बृहद्रथ
S.S.C.  स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2010
उत्तर-(ब)
सिंहली अनुश्रुतियों, दीपवंश एवं महावंश के अनुसार, अशोक को उसके शासन के चैथे वर्ष निग्रोध नामक भिक्षु ने बौद्ध धर्म में दीक्षित किया। दिव्यावदान अशोक को बौद्ध धर्म में दीक्षित करने का श्रेय उपगुप्त नामक बौद्ध भिक्षु को देता है।
14. चंद्रगुप्त मौर्य का प्रसिद्ध गुरु चाणक्य निम्नलिखित में से किस विद्या केंद्र से संबंधित था?
(अ) तक्षशिला (ब) नालंदा
(स) विक्रमशिला (द) वैशाली
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(अ)
चंद्रगुप्त मौर्य का प्रसिद्ध गुरु चाणक्य, तक्षशिला विद्या केंद्र से संबंधित था।
15. कलिंग युद्ध किस वर्ष में हुआ था?
(अ) 261 BC (ब) 263 BC
(स) 232 BC (द) 240 BC
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2011
उत्तर-(अ)
अशोक ने अपने राज्याभिषेक (269 ई.पू.) के आठवें वर्ष अर्थात 261 ई.पू. में कलिंग पर आक्रमण किया था। इसका स्पष्ट साक्ष्य अशोक के तेरहवें शिलालेख में मिलता है।
16. अशोक पर कलिंग युद्ध का प्रमाव कहां दिखाई देता है?
(अ) स्तंभों पर उत्कीर्ण राज्यादेश
(ब) शिलाओं पर उत्कीर्ण 13वें राज्यादेश
(स) खुदाई
(द) इनमें से कोई नहीं
S.S.C.  मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2013
उत्तर-(ब) उपर्युक्त प्रश्न की व्याख्या देखें।
17. मौर्य काल के दौरान शिक्षा का सबसे प्रसिद्ध केंद्र निम्न में से कौन-सा था?
(अ) उज्जैन (ब) वल्लभी
(स) नालंदा (द) तक्षशिला
S.S.C.  संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(द)
मौर्य काल में शिक्षा का सर्वाधिक प्रसिद्ध केंद्र, तक्षशिला था। यहां विश्व भर से लोग पढ़ने आते थे। यह वर्तमान इस्लामाबाद (पाकिस्तान की राजधानी) से कुछ ही दूरी पर पश्चिम में स्थित है। चंद्रगुप्त मौर्य ने सैनिक शिक्षा, तक्षशिला से प्राप्त किया था। चाणक्य यहां का प्रसिद्ध आचार्य भी था।

20. अशोक के शिलालेख किस लिपि में खुदे हुए हैं?
(अ) मगधी (ब) ब्राह्मी
(स) पालि (द) देवनागरी लिपि
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-1) परीक्षा, 2014
उत्तर-(ब)
अशोक के अभिलेखों में शाहबाजगढ़ी एवं मानसेहरा के अभिलेख खरोष्ठी लिपि में, तक्षशिला एवं लघमान अभिलेख आरमेइक लिपि में, शरेकुना अभिलेख आरमेइक एवं ग्रीक लिपि में उत्कीर्ण हैं। इसके अलावा सभी शिलालेख, लघु शिलालेख, स्तंभ लेख एवं लघु स्तंभ लेख, ब्राह्मी लिपि में उत्कीर्ण हैं।
21. निम्न में किसने और कब, पहली बार अशोक के शिलालेखों का अर्थ स्पष्ट किया था?
(अ) 1810 – हैरी स्मिथ (ब) 1787 – जान टावर
(स) 1825 – चार्ल्स मेटकाफ (द) 1837 – जेम्स प्रिंसिप
S.S.C संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(द)
सर्वप्रथम 1837 ई. में जेम्स प्रिंसिप नामक विद्वान ने अशोक के शिलालेखों को पढ़ा था, जबकि सबसे पहले 1750 ई. में टीफेन थेलर महोदय द्वारा खोजा गया अभिलेख दिल्ली-मेरठ अभिलेख था। प्रसिद्ध इतिहासकार डी.आर. भंडारकर महोदय ने तो मात्र अभिलेखों के आधार पर अशोक का इतिहास लिखने का प्रयास किया है।
22. किस प्रसिद्ध शासक को ‘शिलालेखों का जनक‘ कहा जाता था?
(अ) समुद्रगुप्त (ब) चंद्रगुप्त मौर्य
(स) अशोक (द) कनिष्क
S.S.C.  स्टेनोग्राफर (ग्रेड ‘सी‘ एवं ‘डी‘) परीक्षा, 2014
उत्तर-(स)
मौर्य वंश के शासक अशोक को ‘शिलालेखों का जनक‘ कहा जाता है। अशोक ने यह प्रणाली ईरानी शासकों से ग्रहण की थी।
23. मौर्य वंश के शासन के दौरान ‘स्थानिक‘ कौन था?
(अ) जिला प्रशासक (ब) प्रांतीय प्रशासक
(स) ग्राम प्रशासक (द) नगर प्रशासक
S.S.C. मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2014
उत्तर-(अ)
मौर्य वंश के शासन के दौरान ‘स्थानिक‘ जिला प्रशासक होता था। मेगस्थनीज ने नगर के प्रमुख अधिकारी को ‘एस्ट्रोनोमाई‘ कहा है। उसके अनुसार जिले का अधिकारी ‘एग्रोनोमोई‘ था।
24. मौर्य वंश के तत्काल बाद किस वंश ने आकर मगध राज्य पर शासन किया?
(अ) सातवाहन (ब) शुंग
(स) नंद (द) कण्व
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2013
उत्तर-(ब)
अंतिम मौर्य सम्राट बृहद्रथ की हत्या करके पुष्यमित्र शुंग द्वारा 184 ई. पू. में शुंग वंश की स्थापना की गई।