Monthly Archives: May 2019

विद्युत रासायनिक श्रेणी , विशेषताएँ , मानक इलेक्ट्रोड विभव , सेल आरेख , डेनियल सेल का सेल आरेख

सेल आरेख : Zn / Zn2+ // Cu2+ /Cu या Zn / ZnSO4 // CuSO4 / Cu विद्युत रासायनिक सेल को छोटे रूप में व्यक्त करना सेल आरेख कहलाता है। सेल आरेख बनाने के मुख्य बिंदु निम्न है – 1. सेल आरेख में एनोड को बायीं ओर तथा कैथोड को दाई ओर लिखते है। 2…. Continue reading »

यौगिक का सूत्र ज्ञात करना , आयन इलेक्ट्रॉन विधि , ऑक्सीकरण अंक विधि , संतुलित करने की विधियाँ

यौगिक का सूत्र ज्ञात करना : ऑक्सीकरण अपचयन अभिक्रियाओ को संतुलित करने की विधियाँ :- ऑक्सीकरण अपचयन अभिक्रियाओं को संतुलित करने की निम्न विधियाँ प्रचलित है – 1. आयन इलेक्ट्रॉन विधि 2. ऑक्सीकरण अंक विधि 1. आयन इलेक्ट्रोन विधि आयन इलेक्ट्रॉन विधि द्वारा समीकरण को संतुलित करने के विभिन्न पद निम्न है – सर्वप्रथम अभिक्रिया… Continue reading »

ऑक्सीकरण अंक (oxidation number in hindi) , ऑक्सीकरण अंक निकालने के लिए नियम , अनुप्रयोग 

(oxidation number in hindi) ऑक्सीकरण अंक : किसी भी यौगिक अथवा तत्व के अणु में उपस्थित किसी परमाणु पर उपस्थित आवेश के मान को उस परमाणु का ऑक्सीकरण अंक कहा जाता है , परमाणु पर यह आवेश का मान इलेक्ट्रॉन के स्थानांतरण के कारण उत्पन्न होता है। ऑक्सीकरण अंक निकालने के लिए स्वेच्छ नियम 1. मुक्त… Continue reading »

ऑक्सीकरण और अपचयन अभिक्रिया oxidation and reduction reactions in hindi

(oxidation and reduction reactions in hindi) ऑक्सीकरण – अपचयन अभिक्रियाएँ : प्राचीन अवधारणा : वे अभिक्रियाएँ जिनमें तत्व या यौगिक से ऑक्सीजन का संयोग होता है ऑक्सीकरण कहलाता है। उदाहरण : 2mg + O2 → 2mgOS + O2 → SO2तथा वे अभिक्रियाएँ जिनमें तत्व या यौगिक से ऑक्सीजन का निष्कासन होता है अपचयन कहलाता है।… Continue reading »

Ca तथा mg का जैविक महत्व , Na+ व K+ का महत्व , BeCl2 की संरचना importance of ca and mg

Ca तथा mg का जैविक महत्व : Mg2+ व Ca2+ आयन जैविक क्रियाओं में महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है। Mg2+  जन्तु कोशिकाओं के अन्दर सांद्रित रहते है जबकि Ca2+ आयन कोशिकाओ के बाहर तरल द्रव सान्द्रित रहते है। Mg2+ आयन अनेक एंजाइम अभिक्रियाओं को उत्प्रेरित करते है , पौधों में पाए जाने वाले हरे रंग के लवण क्लोरोफिल में Mg2+ आयन पाए जाते… Continue reading »