वर्णांधता को किस उपाय से ठीक किया जा सकता है | वर्णान्धता को किस लेन्स से दूर किया जा सकता है

By  

वर्णान्धता को किस लेन्स से दूर किया जा सकता है वर्णांधता को किस उपाय से ठीक किया जा सकता है ? 

121. दूर दृष्टि दोष से पीड़ित व्यक्ति के चश्में में कौन-सा लेन्स प्रयोग किया जाता है ?
(अ) उत्तल लेन्स (ब) अवतल लेन्स
(स) समतल लेन्स (द) समतल-अवतल लेन्स
122. बुढ़ापे में दूर दृष्टिता वह खराबी होती है, जिसमें लेन्स-
(अ) अपनी प्रत्यास्थता खो देता है
(ब) अधिक पारदर्शी हो जाता है
(स) अपारदर्शी हो जाता है
(द) बहुत अधिक छोटा हो जाता है
123. वर्णान्धता को किस लेन्स से दूर किया जा सकता है ?
(अ) अवतल लेन्स (ब) उत्तल लेन्स
(स) बेलनाकार लेन्स (द) इनमें से कोई नहीं
124. जरा दृष्टि दोष (Presbyopia) के उपचार के लिये प्रयुक्त होता है-
(अ) अवतल लेन्स (ब) उत्तल लेन्स
(स) उत्तल दर्पण (द) बायफोकल लेन्स
125. मानव नेत्र एक कैमरे के समान है, अतः इसमें एक लेंस निकाय है। नेत्र लेंस क्या बनाता है?
(अ) दृष्टिपटल पर पिण्ड का सीधा या ऊर्ध्वाधर वास्तविक प्रतिबिम्ब (ब) दृष्टिपटल पर पिण्ड का प्रतिलोमित, आभासी प्रतिबिम्ब
(स) दृष्टिपटल पर पिण्ड का प्रतिलोमित, वास्तविक प्रतिबिम्ब
(द) आइरिश पर पिण्ड का सीधा या ऊर्ध्वाधर, वास्तविक प्रतिबिम्ब
126. सूची-I (दृष्टि दोष) सूची-II (उपचार)
A. निकट दृष्टि दोष 1. उत्तल लेन्स
B. दूर दृष्टि दोष 2. द्विफोकसी लेन्स
C. जरा दृष्टि दोष 3. बेलनाकार लेन्स
D. अबिन्दुकता 4. अवतल लेन्स
कूट: A B c~ D
(अ) 1 2 3 4
(ब) 1 4 3 2
(स) 4 3 2 1
(द) 4 1 2 3
127. चश्मा प्रयुक्त करने वाले व्यक्तियों को सूक्ष्मदर्शी का प्रयोग किस प्रकार करना चाहिए?
(अ) वे सूक्ष्मदर्शी का प्रयोग नहीं कर सकते हैं
(ब) उन्हें चश्मा पहने रहना चाहिए
(स) उन्हें चश्मा उतार देना चाहिए
(द) चाहे वह चश्मा उतार दे या पहने रहे, इससे कोई अंतर नहीं पड़ता है
128. निम्नलिखित में कौन-सा कथन असत्य है ?
(अ) निकट दृष्टि दोष में अवतल लेन्स का चश्मा दिया जाता है।
(ब) दूर दृष्टि दोष में उत्तल लेन्स का चश्मा दिया जाता है।
(स) जरा दृष्टि दोष में बायफोकल लेन्स का चश्मा दिया जाता है।
(द) अबिन्दुकता के उपचार हेतु बायफोकस लेन्स का चश्मा दिया जाता है ।
129. दूर दृष्टि निवारण के लिये काम में लेते हैं-
(अ) अवतल लेन्स (ब) उत्तल दर्पण
(स) उत्तल लेन्स (द) अवतल दर्पण
130. मायोपिया से क्या तात्पर्य है ?
(अ) दूर दृष्टि दोष (ब) निकट दृष्टि दोष
(स) वर्णान्धता (द) रतौंधी
131. हाइपरमेट्रोपिया (Hypermetropia) का अर्थ है-
(अ) निकट दृष्टि दोष (ब) दूर दृष्टि दोष
(स) जरा दूर दृष्टि (द) प्रेसवायोपिया
132. एक आदमी 10 मीटर से अधिक दूरी की वस्तु स्पष्ट नहीं देख पाता है। वह किस दृष्टिदोष से पीड़ित है ?
(अ) हाइपर मेट्रोपिया (ब) हाइड्रोफोबिया
(स) मायोपिया (द) केटारेक्ट
133. एक मनुष्य 1 मीटर से कम दूरी की वस्तु को स्पष्ट नहीं देख सकता है। वह व्यक्ति किस दोष से पीड़ित है?
(अ) दूर दृष्टि (ब) निकट दृष्टि
(स) ताल का रोग (द) इनमें से कोई नहीं
134. ल्यूमेन एकक है-
(अ) ज्योति फ्लक्स का (ब) ज्योति तीव्रता का
(स) प्रदीप्ति घनत्व का (द) चमक का
135. दूरबीन (Telescope) क्या है ?
(अ) दूर की वस्तु देखी जाती है।
(ब) नजदीक की वस्तु देखी जाती है ।
(स) पानी की गहराई मापी जाती है।
(द) इनमें से कोई नहीं …
136. घड़ी साज घड़ी के बारीक पुों को देखने के लिये किसका उपयोग करता है ?
(अ) फोटो कैमरा का (ब) आवर्द्धक लेन्स
(स) संसुक्त सूक्ष्मदर्शी (द) दूरदर्शी
137. जीव विज्ञान की प्रयोगशालाओं में सूक्ष्म कोशिकाओ या जीवों के आवर्दि्धत प्रतिबिम्ब देखने के लिये किसका उपयोग किया जाता है?
(अ) फोटो कैमरा (ब) सरल सूक्ष्मदर्शी
(स) संयुक्त सूक्ष्मदर्शी (द) दूरदर्शी
138. दूर की वस्तुओं के निरीक्षण के लिये किस प्रकाशिक यंत्र का उपयोग किया जाता है ?
(अ) सरल सूक्ष्मदर्शी (ब) संयुक्त सूक्ष्मदर्शी
(स) इलेक्ट्रॉन माइक्रोस्कोप (द) दूरदर्शी
139. दूरबीन का आविष्कार किया था-
(अ) गैलीलियो (ब) गुटिनबर्ग
(स) एडीसन (द) ग्राम बेल
140. अवतल लेंस प्रयुक्त होता है, सुधार हेतु-
(अ) मोतियाबिन्द (ब) दीर्घदृष्टि
(स) निकट दृष्टि (द) दूर दृष्टि
141. सूर्य छिपने से पहले दीर्घवृत्तीय प्रतीत होता है, क्योंकि-
(अ) उस समय सूर्य अपना आकार परिवर्तित कर लेता है।
(ब) प्रकाश का प्रकीर्णन हो जाता है।
(स) प्रकाश के अपवर्तन का प्रभाव पड़ता है।
(द) प्रकाश के विवर्तन का प्रभाव पड़ता है।
142. तन्तु प्रकाशिक संचार में संकेत किस रूप में प्रवाहित होता है ?
(अ) प्रकाश तरंग (ब) रेडियो तरंग
(स) सूक्ष्म तरंग (द) विद्युत तरंग
143. तारे टिमटिमाते हैं-
(अ) अपवर्तन के कारण (ब) परावर्तन के कारण
(स) ध्रुवण के कारण (द) प्रकीर्णन के कारण
144. निम्नलिखित प्रकार के काँचों में से कौन-सा एक पराबैंगनी किरणों का विच्छेदन कर सकता है?
(अ) सोडा काँच (ब) पाइरेक्स काँच
(स) जेना काँच (द) क्रुक्स काँच
145. प्रकाश के निम्नलिखित प्रकारों में से किनका पौधे द्वारा तीव्र अवशोषण होता है ?
(अ) बैंगनी और नारंगी (ब) नीला और लाल
(स) इण्डिगो और पीला (द) पीला और बैंगनी
146. निम्नलिखित परिघटनाओं पर विचार कीजिए-
1. गोधूलि में सूर्य का आमाप
2. ऊषाकाल में सूर्य का रंग
3. ऊषाकाल में चन्द्रमा का दिखना
4. आकाश में तारों का टिमटिमाना
5. आकाश में ध्रुवतारे का दिखना
उपर्युक्त में से कौन-से दृष्टिभ्रम है?
(अ) 1, 2 और 3 (ब) 3,4 और 5
(स) 1, 2 और 4 (द) 2, 3 और 5
147. कथन (अ): प्रकाश के दृश्य वर्णक्रम में लाल प्रकाश हरे प्रकाश की अपेक्षा अधिक ऊर्जस्वी होता है
कथन (R): लाल प्रकाश का तरंगदैर्घ्य हरे प्रकाश के तरंगदैगर्य से अधिक होता है।
कूटः
(अ) A और R दोनों सही हैं और R,A का सही स्पष्टीकरण है।
(ब) A और R दोनों सही हैं, परन्तु R,A का सही स्पष्टीकरण नहीं है।
(स) A सही है, परन्तु R गलत है
(द) A गलत है, परन्तु R सही है
148. निम्नलिखित में से किसमें उच्चतम ऊर्जा होती है ?
(अ) नीला प्रकाश (ब) हरा प्रकाश
(स) लाल प्रकाश (द) पीला प्रकाश
149. जब प्रकाश की तरंगें वायु से कांच में होकर गुजरती है, तब कौन से परितर्त्य प्रभावित होंगे ?
(अ) तरंगदैर्घ्य, आकृत्ति एवं वेग
(ब) केवल वेग तथा आवृत्ति
(स) केवल तरंगदैर्घ्य तथा आवृत्ति
(द) केवल तरंगदैर्घ्य तथा वेग
150. जब, एक व्यक्ति तीव्र प्रकाश क्षेत्र से अंधेरे कमरे में प्रवेश कस्ता है, तो उसे कुछ समय के लिए स्पष्ट दिखायी नहीं देता है, बाद में धीरे-धीरे उसे चीजें दिखायी देने लगती हैं। इसका कारण है-
(अ) पुतली के आकार में परिवर्तन
(ब) लेन्स के व्यास और फोकस दूरी में परिवर्तन
(स) रोडोरिसन का विरंजक व पुनः तिरंचन होना
(द) आँखों का अन्धेरे के प्रति कुछ समय में अनुकूलित होना

उत्तरमाला 

121. (अ) 122. (द) 123. (द) 124. (द) 125. (ब) 126. (द) 127. (ब) 128. (द) 129. (स) 130. (ब)
131, (ब) 132. (स) 133. (अ) 134. (अ) 135. (अ) 136. (ब) 137. (स) 138. (अ) 139. (अ) 140, (स) 141. (स) 142. (अ) 143, (अ)
144. (द) 145. (ब) 146. (अ) 147. (द) 148. (अ) 149. (द) 150. (द)