मराठा साम्राज्य का अंतिम पेशवा कौन था who was the last maratha peshwa in hindi अन्तिम मराठा पेशवा का नाम

By   May 20, 2021

who was the last maratha peshwa in hindi अन्तिम मराठा पेशवा का नाम मराठा साम्राज्य का अंतिम पेशवा कौन था ?

प्रश्न : पेशवा प्रथा, ब्रिटिश द्वारा किस पेशवा के काल में समाप्त की गई थी ?
(अ) रघुनाथ राव (ब) नारायण राव
(स) माधव राव II (द) बाजीराव II
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2013
उत्तर-(द)
एल्फिंस्टन ने पेशवा बाजीराव द्वितीय से उसकी इच्छा न रहने पर भी 13 जून, 1817 ई. को पूना की संधि पर हस्ताक्षर करवाए। इस संधि से पेशवा को मराठा संघ की प्रधानता छोड़ देनी पड़ी।

शेरशाह
ऑफलाइन परीक्षा प्रश्न (2006-2015)
1. निम्नलिखित में से किसके शासनकाल के दौरान भारत में 1 रुपये का सिक्का टकसालित (मिंट) किया गया था?

(अ) बाबर (ब) शेरशाह सूरी
(स) अकबर (द) औरंगजेब
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2006
उत्तर-(ब)
शेरशाह सूरी के शासनकाल में भारत में 1 रुपये का सिक्का ढाला गया था। शेरशाह की मुद्रा व्यवस्था अत्यंत विकसित थी। उसने पुराने घिसे-पिटे सिक्कों के स्थान पर शुरू में चांदी का रुपया (180 ग्रेन) और तांबे का दाम (380 ग्रेन) चलाया। शेरशाह के समय में 23 टकसालें थीं। शेरशाह के सिक्कों पर शेरशाह का नाम और पद, अरबी या नागरी लिपि में अंकित होता था।
2. शेरशाह द्वारा निर्मित ग्रैंड ट्रंक रोड, पंजाब को किसके साथ जोड़ती थी?
(अ) लाहौर (ब) मुल्तान
(स) आगरा (द) पूर्व बंगाल
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2012
उत्तर-(द)
शेरशाह द्वारा निर्मित ग्रैंड ट्रंक रोड, पंजाब को पूर्वी बंगाल के साथ जोड़ती थी।
3. शेरशाह की मृत्यु कहां लड़ते हुए हुई थी?
(अ) चैसा में (ब) कलिंग में
(स) कालिंजर में (द) इनमें से कहीं भी नहीं
S.S.C. F.C.I. परीक्षा, 2012
उत्तर-(स)
ऐसा माना जाता है कि कालिंजर अभियान के दौरान किले की दीवार से टकराकर लौटे एक गोले के विस्फोट से शेरशाह की 22 मई, 1545 ई. को मृत्यु हो गई। मृत्यु के समय वह ‘उक्का‘ नामक आग्नेयास्त्र चला रहा था।
मराठा
ऑफलाइन परीक्षा-प्रश्न (2006-2015)
1. नाना फड़नवीस का मूल नाम था –
(अ) महादजी सिंधिया (ब) तुकोजी होलकर
(स) नारायण राव (द) बालाजी जनार्दन भानु
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(द)
नाना फड़नवीस का मूल नाम ‘बालाजी जनार्दन भानु‘ था।
2. शिवाजी का गुरु कौन था?
(अ) नामदेव (ब) रामदास
(स) एकनाथ (द) तुकाराम
S.S.C. Tax Asst. परीक्षा, 2006
उत्तर-(ब)
शिवाजी का जन्म 1627 ई. में पूना के निकट शिवनेर के दुर्ग में हुआ था। उनके पिता का नाम शाहजी भोंसले और माता का नाम जीजाबाई था। शिवाजी के व्यक्तित्व पर सर्वाधिक प्रभाव उनकी माता जीजाबाई तथा संरक्षक एवं शिक्षक दादा कोंणदेव का पड़ा। इनके गुरु का नाम समर्थ रामदास था।
3. उस मराठा राजा का नाम बताइए, जो औरंगजेब से बहादुरी से लड़ा-
(अ) शाहजी भोंसले (ब) बाजी राव प्प्
(स) शिवाजी (द) साहू
S.S.C. मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2014
उत्तर-(स)
शिवाजी, औरंगजेब से बहादुरी के साथ लड़े थे। 1665 ई. में औरंगजेब ने कछवाहा राजा जयसिंह को शिवाजी के विरुद्ध भेजा था, जिसने शिवाजी को पराजित कर पुरंदर की संधि (1665 ई.)। करने के लिए बाध्य किया।
4. छत्रपति शिवाजी को हराने के लिए औरंगजेब ने निम्न में से किसको भेजा था?
(अ) राजा जसवंत सिंह (ब) राजा मान सिंह
(स) राजा भगवान दास (द) राजा जय सिंह
S.S.C. मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2011
उत्तर-(द)
छत्रपति शिवाजी को हराने के लिए औरंगजेब ने राजा जय सिंह को भेजा था। दोनों के मध्य पुरंदर की संधि 11 जुन, 1665 ई. को हुई।
5. शिवाजी को पकड़ने के लिए औरंगजेब द्वारा किस जनरल को भेजा गया था?
(अ) अबुल फजल (ब) अफजल खान
(स) मलिक काफूर (द) शाइस्ता खान
S.S.C.  मल्टी टास्किंग परीक्षा, 2014
उत्तर-(द)
1660 ई. में औरंगजेब ने अपने मामा शाइस्ता खान को दक्षिण का सूबेदार नियुक्त किया और शिवाजी को खत्म करने का आदेश दिया। उसने शिवाजी के विरुद्ध पूना, चाकन और कल्याण सहित कुछ स्थानों और किलों को जीतने में सफलता पाई, परंतु 1663 ई.में शिवाजी ने रात्रि के समय पूना में शाइस्ता खान के निवास स्थान पर आक्रमण कर दिया। इस संघर्ष में शाइस्ता खान का अंगूठा कट गया और उसका पुत्र फतेह खान मार डाला गया।
6. शिवाजी ने कितनी बार सूरत को लूटा?
(अ) चार बार (ब) एक बार
(स) तीन बार (द) दो बार
S.S.C. C.P.O. परीक्षा, 2015
उत्तर-(द)
छत्रपति शिवाजी (1627-1680) ने सूरत को दो बार लूटा। प्रथम बार फरवरी, 1664 में व दूसरी बार अक्टूबर, 1670 में।
7. 1700 ई. में राजाराम की मृत्यु के बाद मराठों ने मुगलों के विरुद्ध युद्ध उसकी वीर पत्नी——-नेतृत्व में जारी रखा-
(अ) ताराबाई (ब) लक्ष्मीबाई
(स) रमाबाई (द) जीजाबाई
S.S.C. C.P.O. परीक्षा, 2010
उत्तर-(अ)
राजाराम की मृत्यु के बाद उसकी विधवा पत्नी ताराबाई ने अपने नार वर्षीय पुत्र को शिवाजी द्वितीय के नाम से गद्दी पर बैठाया और मगलों से स्वतंत्रता हेतु संघर्ष जारी रखा।
8. शिवाजी का राज्याभिषेक हुआ था-
(अ) 1627 ई. में (ब) 1674 ई. में
(स) 1680 ई. में (द) 1670 ई. में
S.S.C. स्नातक स्तरीय परीक्षा, 2011
उत्तर-(ब)
शिवाजी का राज्याभिषेक काशी के प्रसिद्ध विद्वान गंगा भट्ट अथवा विश्वेश्वर भट्ट द्वारा 6 जून, 1674 ई. को रायगढ़ में हुआ था। 18 जून, 1674 ई. को इनकी माता जीजाबाई का निधन हो गया। अतः तांत्रिक विधि से दूसरा राज्याभिषेक निश्चलपुरी गोसाईं द्वारा 24 सितंबर, 1674 ई. को संपन्न कराया गया।
9. शिवाजी के राज्य की राजधानी कहां थी?
(अ) पुणे (ब) करवार
(स) पुरंदर (द) रायगढ़
S.S.C.मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2006
उत्तर-(द)
शिवाजी के राज्य की राजधानी रायगढ़ थी। शिवाजी द्वारा 1674 ई. में अपना राज्याभिषेक यहीं पर करवाया गया था।
10. यूरोपियन शक्ति पहचानिए, जिससे शिवाजी ने तोपें और गोलाबारूद प्राप्त किए थे।
(अ) फ्रांसीसी (ब) पुर्तगाली
(स) डच (द) अंग्रेज
S.S.C. संयुक्त स्नातक स्तरीय (Tier-I) परीक्षा, 2011
उत्तर-(’)
शिवाजी के पास एक छोटा तोपखाना था, जिसमें लगभग 200 तो थीं। ये तोपें फ्रांसीसियों, पुर्तगालियों तथा अंग्रेजों से खरीदी गईं थीं।
11. ‘नाना साहब‘ के नाम से कौन प्रसिद्ध था?
(अ) बाजीराव प्रथम (ब) बालाजी बाजीराव
(स) बालाजी विश्वनाथ (द) माधव राव
S.S.C. Tax Asst. परीक्षा, 2008
उत्तर-(ब)
बालाजी बाजीराव ‘नाना साहब‘ के नाम से भी प्रसिद्ध थे। यह बाजीराव प्रथम के पुत्र थे। इनका शासन 1740-61 ई. तक था।
12. पेशवाओं का संस्थापक निम्नलिखित में से कौन था?
(अ) परशुराम त्र्यंबक (ब) रामचंद्र पंत
(स) बालाजी बाजीराव (द) बालाजी विश्वनाथ
S.S.C. मैट्रिक स्तरीय परीक्षा, 2008
उत्तर-(द)
मराठा राज्य में पेशवा व्यवस्था बालाजी विश्वनाथ के साथ ही शुरू हुई थी। इस प्रकार बालाजी विश्वनाथ को ही पेशवा व्यवस्था का संस्थापक माना जाता है।
13. जिस समय 1761 में पानीपत की तीसरी लड़ाई में अहमद शाह अब्दाली ने मराठों को हराया उस समय दिल्ली का शासक कौन था?
(अ) शाह आलम II (ब) आलमगीर II
(स) मुहम्मद शाह (द) जहांदार शाह
S.S.C. C.P.O. परीक्षा, 2015
उत्तर-(अ)
1761 में पानीपत की तीसरी लड़ाई अफगान शासक अहमदशाह अब्दाली व मराठों के बीच लड़ी गई थी। इस समय दिल्ली का शासक मुगल बादशाह शाहआलम II (अलीगौहर) था। इस युद्ध में मराठों की हार हुई।
14. प्रथम आंग्ल-मराठा युद्ध कौन-सी संधि द्वारा समाप्त हुआ था?
(अ) सूरत (ब) बसीन
(स) सालबाई (द) पुरंदर
S.S.C. संयुक्त हायर सेकण्डरी (10़2) स्तरीय परीक्षा, 2012
उत्तर-(स)
प्रथम आंग्ल-मराठा युद्ध (1775-82 ई.) का कारण मराठों के आपसी झगड़े तथा अंग्रेजों की महत्त्वाकांक्षाएं थीं। 1782 ई. में सालबाई की संधि (अंग्रेज तथा महादजी सिंधिया के बीच) द्वारा प्रथम आंग्ल-मराठा युद्ध समाप्त हो गया तथा एक-दूसरे के विजित क्षेत्र वापस कर दिए गए तथा अगले 20 वर्षों तक शांति बनी रही।