परिभ्रूणपोष एवं फल फल भित्ति में अन्तर क्या है ? (Difference between Perisperm and Pericarp)

परिभ्रूणपोष एवं फल फल भित्ति में अन्तर क्या है ? (Difference between Perisperm and Pericarp)

सब्सक्राइब करे youtube चैनल

(Difference between Perisperm and Pericarp in hindi) परिभ्रूणपोष एवं फल भित्ति में अन्तर क्या है ?

प्रश्न : परिभ्रूणपोष और फलभित्ति में क्या अंतर है लिखिए ?

उत्तर : इनमें निम्नलिखित अंतर होते है –

परिभ्रूणपोष (Perisperm) फलभित्ति (Pericarp)
1.    कुछ बीजों में बीजाण्ड का बीजाण्डकाय (nucellus) एक पतले आवरण के रूप में बचा रह जाता है, इसे परिभ्रूणपोष कहा जाता हैं ; जैसे-कुमुदिनी, काली मिर्च, चुकन्दर आदि में।

 

2.    यह बीज में अप्रयुक्त न्युकेलस (बीजाण्डकाय) है अर्थात यह एक न्युकेलस है जो बीज के अन्दर प्रयुक्त नहीं होती है या काम नहीं आती है |

 

3.    यह एक बीज का भाग होता है अथवा बीज के भाग के रूप में पाया जाता है |

 

4.    यह सामान्यतया सूखी अवस्था में पायी जाती है |

 

5.    परिभ्रूणपोष कुछ ही प्रकार के बीजों में पाए जाते है , ये सभी बीजों में नहीं पाए जाते है |

निषेचन के बाद अण्डाशय से फलभित्ति (pericarp) का निर्माण होता है। बीज तथा फलभित्ति मिलकर फल कहे जाते हैं। शुष्क फलों में फलभित्ति प्रायः शुष्क एवं एक पर्त से बनी होती है, जबकि सरस फलों में यह मांसल तथा तीन पतों से बनी होती है।

फल भित्ति फल का आवरण होता है जो अंडाशय की दीवार से विकसित होता है।

यह फल का भाग होता है या फल के भाग के रूप में पाया जाता है |

 

 

यह सामान्यतया सूखी अथवा माँसल अवस्था के रूप में पायी जाती है |

 

फलभित्ति सभी प्रकार के फलों में पाए जाते है |